कानपुर कोल्ड स्टोरेज हादसाः मरने वालों की संख्या हुई 5

kanpur-building-collapse_1489647704कानपुर के शिवराजपुर इलाके में 15 मार्च को कटियार कोल्ड स्टोरेज की बिल्डिंग तेज धमाके के साथ गिर गई। इस हादसे के दौरान कई मजदूर मलबे तले दब गए थे जिनमें से पांच लोगों की मौत हो गई थी। वहीं 15 मार्च को दर्जन भर लोगों को बाहर निकाला गया था। एनडीआरएफ टीम का राहत बचाब अभियान जारी है।

जानकारी मिली है कि 16 मार्च  की सबुह एनडीआरएफ टीम ने जेसीबी मशीन से मलबा हटाने का काम शुरू कर दिया है। बता दें घटना के बाद यह जानकारी मिली थी कि राहत और बचाव कार्य अगले 48 घंटों तक जारी रह सकता है। घटना के बाद राहत और बचाव कार्य की कमान नेशनल डिजास्टर रेस्क्यू फोर्स (एनडीआरएफ) की लखनऊ से आई 11वीं बटालियन की 34 सदस्यीय टीम ने संभाला रखा है।

वहीं अब भी 20 से अधिक लोगों के मलबे तले दबे होने की संभावना जताई जा रही है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार कटियार कोल्ड स्टोरेज में इस बार दो नए चेंबर बनाए गए थे। मौजूदा समय में लोडिंग का काम जारी था। अमोनिया सिलेंडर फटने से यह दर्दनाक हादसा हुआ है। यह भी सूचना मिली है कि इस बार आलू की पैदावार अधिक होने से तय क्षमता से अधिक स्टोरेज किया गया था।




घटना की सूचना के बाद से प्रशासन लगातार राहत कार्य में जुटा हुआ है। सभी बड़े अधिकारी मौके पर बराबर नजर रख रहे है। हर संभव मदद के लिए प्रयास किया जा रहा है। वहीं कानपुर के बड़े अस्पताल हैलट में अलर्ट जारी है। घायल मजदूरों का इलाज हैलेट अस्पताल में चल रहा है।

लेखन / प्रस्तुति :

हिंद वॉच मीडिया
हिंद वॉच मीडिया
हिंद वॉच मीडिया जमीनी सरोकारों से जुड़ी जनपक्षधरता की पत्रकारिता कर रही है| समूह अपने साप्ताहिक अखबार, न्यूज़ पोर्टल और सोशल मीडिया नेटवर्क के माध्यम से जमीनी और वास्तविक ख़बरों को निष्पक्षता के साथ अपने पाठकों तक पहुंचाती है| भारत और विदेशों में यह वेब पोर्टल पढ़ा जा रहा है|
दोस्तों को बताएं :
यह भी पढ़ें :   महोबा के बाद प्रतापगढ़ में चुनावी हिंसा, बसपा-भाजपा समर्थकों में मारपीट

यह भी पढ़े

Leave a Comment