पूर्व फुटबॉलर एन बीरेन सिंह बने मणिपुर के पहले भाजपाई सीएम

biren-singh_650x400_41489565123पूर्व कांग्रेसी नेता एन बीरेन सिंह ने 15 मार्च को मणिपुर के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। उनके नेतृत्व में राज्य में पहली बार भाजपा सरकार बन गई है। एन बीरेन सिंह पूर्व फुटबॉलर हैं। उन्होंने अपनी कैबिनेट में आठ मंत्रियों को जगह दी है। आठों ने भी बीरेन सिंह के साथ शपथ ली। गोवा की तरह ही मणिपुर में भी बीजेपी ने छोटी पार्टियों को साथ मिलाकर सरकार बनाई है।

13 मार्च को उन्हें भाजपा विधायक दल का नेता चुना गया था। लगातार 15 साल तक राज्य के मुख्यमंत्री रहे ओ इबोबी सिंह ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। 60 सदस्यों वाली मणिपुर विधान सभा में कांग्रेस के 28, भाजपा के 21, एनपीएफ के 4 एवं अन्य दलों के सात विधायक चुनाव जीतकर सदन पहुंचे हैं। राज्य में बहुमत के लिए 31 विधायकों के समर्थन की जरूरत होगी। भाजपा का दावा है कि 32 विधायक उसके साथ हैं।




राष्ट्रीय स्तर के फुटबॉलर रहे 56 वर्षीय नॉन्गथोमबाम बीरेन सिंह ने अपना राजनीतिक करियर 2002 में डेोक्रेटिक रिवोल्यूशनरी पीपल्स पार्टी (डीआरपीपी) नामक नई पार्टी के टिकट पर विधायक का चुनाव जीतकर शुरू किया था। डीआरपीपी ने 2002 के राज्य विधान सभा चुनाव में 23 उम्मीदवार उतारे थे जिनमें से केवल दो को जीत मिली थी। इन दो विधायकों में एक बीरेन सिंह थे।




चुनाव जीतने के बाद बीरेन और उनकी पार्टी कांग्रेस गठबंधन का हिस्सा बन गए। बीरेन इबोबी सिंह सरकार में मंत्री बनाए गए। साल 2004 के लोक सभा चुनाव से पहले डीआरपीपी  का कांग्रेस में विलय हो गया। 2007 में बीरेन पहली बार कांग्रेस के उम्मीदवार के तौर पर विधान सभा चुनाव लड़े और जीते।

लेखन / प्रस्तुति :

हिंद वॉच मीडिया
हिंद वॉच मीडिया
हिंद वॉच मीडिया जमीनी सरोकारों से जुड़ी जनपक्षधरता की पत्रकारिता कर रही है| समूह अपने साप्ताहिक अखबार, न्यूज़ पोर्टल और सोशल मीडिया नेटवर्क के माध्यम से जमीनी और वास्तविक ख़बरों को निष्पक्षता के साथ अपने पाठकों तक पहुंचाती है| भारत और विदेशों में यह वेब पोर्टल पढ़ा जा रहा है|
दोस्तों को बताएं :
यह भी पढ़ें :   2014 में ही मायावती ने शुरू कर दी थी यूपी चुनाव की तैयारी

यह भी पढ़े

Leave a Comment