सुकमा हमले में बेटे की बहादुरी पर बोली मां- मेरा बेटा मोहम्मद देश के लिए शेर की तरह लड़ा, जिंदा रखी परंपरा

Presentation1878998छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में नक्सली हमले में सीआरपीएफ (CRPF) के 25 जवान शहीद हो गए। सुकमा हमले को लेकर केंद्र और राज्य सरकार की ओर से घटना की निंदा की गई जबकि शहीदों के परिजनों उग्रवादियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। हमले में घायल हुए जवान शेर मोहम्मद को पांच गोली लगी और उनका रायपुर अस्पताल में इलाज चल रहा है।

बेटे की बहादुरी में उनकी मां फरीदा बीबी ने टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में कहा कि “मुझे गांव में किसी ने बताया कि मेरे बेटे ने कम से कम 3 नक्सलियों को मार गिराया। मुझे गर्व है कि मेरा बेटा देश के लिए शेर की तरह लड़ा। उसने अपने परिवार की परंपरा को जिंदा रखा, जिसके लिए उनका परिवार जाना जाता है।” शेर मोहम्मद यूपी के बुलंदशहर के आसिफाबाद चानपुरा के रहने वाले हैं।

घायल जवान की मां ने बताया कि “शेर मोहम्मद के पिता ने भारतीय सेना में सेवाएं दी और सम्मान के साथ रिटायर हुए। उसके अंकल भी सेना में थे और 10 साल पहले रिटायर हुए।” उन्होंने कहा कि “शेर मोहम्मद का बेटा अभी सोहेल अभी दो साल का है, मैं सुनिश्चित करूंगी कि पिता और दादा की तरह वह भी अपने आपको देश सेवा के लिए समर्पित कर दे। हमारा पूरा गांव बेटे की सलामती के लिए दुआ कर रहा है।”




गौरतलब है कि इससे पहले छत्तीसगढ़ के सुकमा में हुए नक्सली हमले में घायल सीआरपीएफ जवान शेर मोहम्मद ने एएनआई से कहा था, “मुठभेड़ में उसके साथियों ने नक्सलियों को करारा जवाब दिया। शेर मोहम्मद ने कहा कि तीन-चार नक्सलियों के सीने में तो उन्होंने ही गोली मारी है।” मोहम्मद ने कहा कि नक्सलियों ने सीआरपीएफ टीम पर हमला करने के लिए ग्रामीणों का इस्तेमाल किया।




उन्होंने कहा, “सबसे पहले नक्सलियों ने ग्रामीण को भेजकर हमारी लोकेशन पता की, इसके बाद करीब 300 नक्सलियों ने हम पर धावा बोल दिया। तब हमलोगों ने भी मुंहतोड़ जवाब दिया और कई नक्सलियों को मार गिराया। वे लोग करीब 300 की संख्या में थे और हमलोग केवल 150 ही थे। फिर भी हमलोगों ने फायरिंग जारी रखी। मैंने ही तीन-चार नक्सलियों को सीने में गोली मारी है।”

लेखन / प्रस्तुति :

हिंद वॉच मीडिया
हिंद वॉच मीडिया
हिंद वॉच मीडिया जमीनी सरोकारों से जुड़ी जनपक्षधरता की पत्रकारिता कर रही है| समूह अपने साप्ताहिक अखबार, न्यूज़ पोर्टल और सोशल मीडिया नेटवर्क के माध्यम से जमीनी और वास्तविक ख़बरों को निष्पक्षता के साथ अपने पाठकों तक पहुंचाती है| भारत और विदेशों में यह वेब पोर्टल पढ़ा जा रहा है|
दोस्तों को बताएं :
यह भी पढ़ें :   अमेरिका में भारतीय मूल के लोगों की हत्याओं से बेपरवाह मोदी : मायावती
loading...

यह भी पढ़े