गोरखालैंड की मांग को लेकर दार्जीलिंग में लगातार हो रहे हैं हिंसक प्रदर्शन

जरूरी बातें :
  1. इतने हथियार एक दिन में इकट्ठा नहीं किए जा सकते हैं| ये एक गहरी साजिश है : ममता बनर्जी |
  2. आईआरबी के एक सहायक कमांडेंट को खुकरी से वार कर जख्मी कर दिया गया |
  3. जीजेएम समर्थकों ने सुरक्षाकर्मियों पर पत्थरबाजी की, पेट्रोल बम भी फेंके |
  4. हालात पर काबू पाने के लिए सुरक्षाबलों को बल प्रयोग करना पड़ा |
  5. स्थिति नियंत्रण में करने के लिए सेना को सड़कों पर उतारा गया |

 

Darjeeling Hind Watchदार्जीलिंग : दार्जीलिंग में चल रहे प्रदर्शन ने आज शनिवार 17 जून 2017 को हिंसक रूप धारण कर लिया जब इंडियन रिजर्व बटालियन (आईआरबी) के एक सहायक कमांडेंट को खुकरी से वार कर जख्मी कर दिया गया| दार्जीलिंग के हालात पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा है कि ये एक गहरी साजिश है| एक दिन में इतने हथियार इकट्ठा नहीं हो सकते| ऐसा पहले कभी नहीं हुआ है| देसी-विदेशी पर्यटक दार्जीलिंग में फंसे हुए हैं| इन हालातों के कारण देश की बदनामी हो रही है| खुकरी के वार से आईआरबी की दूसरी बटालियन के सहायक कमांडेंट किरेम तमांग गंभीर रूप से घायल हो गए| झड़प में प्रदर्शनकारियों के साथ-साथ सुरक्षाकर्मी भी जख्मी हुए हैं| प्रदर्शनकारियों ने पुलिस के एक वाहन को भी आग के हवाले कर दिया| गोरखा जन मुक्ति मोर्चा के समर्थक लगातार सड़कों पर हैं| मोर्चे की अनिश्चितकालीन हड़ताल जारी है तथा उनके द्वारा हिंसा और आगज़नी की जा रही है| सुरक्षाबलों पर पथराव भी किया जा रहा है|




 शनिवार को गोरखा जन मुक्ति मोर्चा समर्थकों ने सुरक्षाकर्मियों पर बोतलें और पेट्रोल बम भी फेंके| इसके बाद सुरक्षाबलों को लाठीचार्ज करना पड़ा और भीड़ को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े गए|

हालात इतने बिगड़ गए है कि सेना को सड़कों पर उतार दिया गया है, ताकि स्थिति हालात को जल्द से जल्द क़ाबू में किया जा सके|



लेखन / प्रस्तुति :

हिंद वॉच मीडिया
हिंद वॉच मीडिया
हिंद वॉच मीडिया जमीनी सरोकारों से जुड़ी जनपक्षधरता की पत्रकारिता कर रही है| समूह अपने साप्ताहिक अखबार, न्यूज़ पोर्टल और सोशल मीडिया नेटवर्क के माध्यम से जमीनी और वास्तविक ख़बरों को निष्पक्षता के साथ अपने पाठकों तक पहुंचाती है| भारत और विदेशों में यह वेब पोर्टल पढ़ा जा रहा है|
दोस्तों को बताएं :
loading...

यह भी पढ़े