सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है सांभर

sambar-in-hindi-1.jpg-650X325सांभर एक दक्षिण-भारतीय अरहर दाल से बनने वाली डिश है। सांभर की खासियत यह है की इसमें दाल के साथ विभिन्न प्रकार की सब्जियां भी डाली जाती हैं| जिससे आपको प्रोटीन और विटामिन एक साथ मिल जाता है। एक कटोरी सांभर में लगभग 50 कैलोरी, 2.6 ग्राम कार्बोहाइड्रेट, 15.0 ग्राम प्रोटीन और 1.8 ग्राम वसा होता है। इस तरह से बनाने में आसान व बहुत स्वादिष्ट होने के साथ सांभर स्वास्थवर्धक भी होता है।

सांभर को डोसा, उत्तपम, इडली, इत्यादि के साथ परोसा जाता है। आप इसे चावल के साथ भी खा सकते है। सबसे पहले हम सांभर बनाने की विधि की जानकारी लेते हैं।

सांभर बनाने की विधि

पैन में एक बड़ा चम्मच तेल डालें फिर उसमें ½ छोटा चम्मच जीरा, ½ छोटा चम्मच सरसों छोटा चम्मच मेथी, 5-6 कड़ी पत्ता, 3-4 लाल मिर्च और एक चुटकी हींग डालें। जैसे ही मसाले फूटने लगे उसमें बैंगन, सहजन, गाजर, कद्दू, लौकी, टमाटर आदि जैसी सब्जियां डालकर थोडी देर भूनें फिर इसमें एक बाउल अरहर की दाल,स्वादानुसार नमक, एक बड़ा चम्‍मच सांभर पाउडर और पानी मिलाकर 20 मिनट पकने के लिए रख दें। पकने के बाद इसमें 1½ चम्मच इमली डाले और कुछ देर तक पकायें। फिर इसे करी पत्ते से गार्निश करके गर्मा-गर्म परासें।

संपूर्ण आहार

सांभर में बहुत तरह की मौसमी सब्जियां जैसे सहजन, बैंगन, गाजर, कद्दू, लौकी, टमाटर आदि डाली जाती है, इस बस चीजों के चलते सांभर को संपूर्ण आहार माना जाता है। अगर आप कुछ हल्का लेकिन भरा हुआ महसूस करना चाहते हैं तो एक बाउल सांभर ले सकते हैं।

यह भी पढ़ें :   500 किलो वजनी महिला इलाज के लिए मुंबई पहुंची

लो ग्लाईसेमिक इंडेक्स

सांभर में ग्‍लाइसेमिक इंडेक्‍स और बुरा कार्बोहाइड्रेट बहुत कम मात्रा में होता है। जो लोग डायबिटीज से पीड़ित है| वह उपयुक्त सामग्री के साथ इसे तैयार करके उपभोग कर सकते हैं। लेकिन सफेद चावल की जगह इडली-सांभर का चयन करना आपके लिए बेहतर है। यह डायबिटीज रोगियों के अनुरूप होगा। वास्तव में, एक बाउल सांभर में 53.6 प्रतिशत जीआई होता है जिसके कारण ये ब्लड शुगर को टेस्टी और हेल्दी तरीके से नियंत्रित करता है।

यह भी पढ़ें   अंडे के छिलके में छिपा है खूबसूरत त्वचा का राज

रोजाना मुट्ठी भर मेवे खाने से दिल की बीमारी दूर रहती है

फाइबर से भरपूर

फाइबर में बहुत अधिक मात्रा में फाइबर होता है। यह वास्तव  में सांभर के सबसे अच्छे स्वास्थ लाभों में से एक है। हम सब इस तथ्य को जानते हैं कि नियमित रूप से फाइबर के सेवन करना| स्वास्थय के लिए अच्छा होता है। साथ ही फाइबर पाचन तंत्र की मदद भी करता है। सांभर खाने के लाभों का आनंद लेने के लिए आप सांभर में फाइबर यूक्त सब्जियां मिला सकते हैं।

कब्ज की सबसे अच्छी दवा

क्‍या आप जानते हैं सांभर कब्‍ज को दूर करने में भी मदद करता है। जीं हां सांभर में पानी की भरपूर मात्रा प्राकृतिक लैक्‍सटिव का काम करती है। इसलिए जो लोग कब्ज़ की समस्या से परेशान है|उन्हें अपनी डाइट में सांभर को शामिल करना चाहिए।

प्रोटीन की मात्रा

सांभर में शामिल दाल के कारण, इसमें प्रोटीन भी भरपूर मात्रा में होता है। इस तरह दाल-आधरित सांभर मेंविभिन्न प्रकार के पोषक तत्व और प्रोटीन भरपूर मात्रा में पाये जाते हैं। अच्छी खबर यह है कि अगर आप कुछ अलग करने की कोशिश करना चाहते हैं तो आप सांभर में अपनी पसंदीदा दाल  मिला सकते हैं। इसके अलावा, सांभर के लाभ उठाने के लिए आप इसमें थोड़ी सी हरी मटर भी मिला सकते हैं।

यह भी पढ़ें :   15 बातें जिन्हें जानने के बाद आप रोज खाएंगे अमरूद

वजन कम करने में सहायक

अगर आप वजन कम करने की कोशिश कर रहे हैं| तो सांभर को अपने आहार में शामिल करना न भूलें। सांभर में मौजूद तरह-तरह की सब्जियां और मसाले प्रोटीन, पौष्टिकता, फाइबर और एंटीआक्सीडेंट से भरपूर होते हैं| जो वजन कम करने में आपकी मदद करते हैं। इडली और डोसा के साथ आप इसे खाना किसी भी समय में अच्छा होता है।

पढ़िए सेहत से जुड़ीं कुछ ज़रूरी ख़बरें

लेखन / प्रस्तुति :

हिंद वॉच मीडिया
हिंद वॉच मीडिया
हिंद वॉच मीडिया जमीनी सरोकारों से जुड़ी जनपक्षधरता की पत्रकारिता कर रही है| समूह अपने साप्ताहिक अखबार, न्यूज़ पोर्टल और सोशल मीडिया नेटवर्क के माध्यम से जमीनी और वास्तविक ख़बरों को निष्पक्षता के साथ अपने पाठकों तक पहुंचाती है| भारत और विदेशों में यह वेब पोर्टल पढ़ा जा रहा है|
दोस्तों को बताएं :

यह भी पढ़े