कुछ सुलझी, कुछ अनसुलझी रह जाती है रिश्तों की कहानी

Rachna Ji Article

प्राय: कोई भी नया संबंध जुड़ने की आरम्भिक अवस्था बहुत रोचक व आकर्षक होता है। धीरे-धीरे यह रोचकता अपने चरम पर पहुँचने के बाद ठिठक जाती है। उसे आगे बढ़ने का स्थान नहीं मिल पाता। शीर्ष के आगे और पीछे, दोनों ओर ढलान होती है। अत: शीर्ष बिंदु पर टिके -टिके रोचकता जब थकान और उकताहट महसूस करने लगती है, वह उदास मन से कदम आगे बढ़ाती है। मानवीय संबंधों के उतार-चढाव को एक अलग नजरिये से देख रहीं हैं रचना त्यागी| हज़ारों की भीड़ में भी हर व्यक्ति अपनी…

दोस्तों को बताएं :
Read More

फिर लौटा उर्दू के आशिकों का पसंदीदा मंच ‘जश्न -ए-रेख्ता’

16807512_1353226971366626_1332214821095225319_n

उर्दू के आशिकों के लिए बेहतरीन मंच ‘जश्न -ए-रेख्ता’ एक बार फिर हाजिर है| इस बार इसका आयोजन  17 फरवरी से रविवार 19 फरवरी तक दिल्ली के इंदिरा गांधी राष्ट्रिय कला केंद्र में किया जा रहा है|. इस बार भी प्रवेश निशुल्क है बस आपको जश्न -ए-रेख्ता की वेबसाइट पर जाकर खुद को रजिस्टर करना होगा| आपको बता दें किजश्न -ए-रेख्ता का यह तीसरे वर्ष का आयोजन है| पिछले दो आयोजन भी बेहद कामयाब हुए थे जिनमें दुनिया भर से उर्दू के चाहने वाले जुटे| उन्होंने मशहूर शायरों, कवियों और…

दोस्तों को बताएं :
Read More

एशिया के सबसे बड़े नाट्य उत्सव भारंगम 2017 को दर्शकों का इंतजार

bharat-rang-mahotsav-nsd-delhi_650x400_41486038638

बसंत पंचमी के उल्लास और बजट की उत्सुकता के बीच भारत ही नहीं एशिया के सबसे बड़े नाट्य उत्सव भारत रंग महोत्सव (भारंगम) की औपचारिक  शुरुआत हुई| यह उन्नीसवां भारंगम है| इस आयोजन का सिलसिला 1999  में शुरू हुआ था| कमानी सभागार में हुए उद्घाटन समारोह की मुख्य अतिथि थीं प्रसिद्ध नृत्यागना सोनल मानसिंह| नाट्य निर्देशक फिरोज अब्बास खान, संस्कृति सचिव नरेंद्र कुमार सिन्हा और इजराइल की निर्देशिका बेरजाक शिंडर के साथ वरिष्ठ रंगकर्मी रतन थियम भी मंच पर थे| लेकिन भारंगम में खाली कुर्सियां दर्शकों का इंतजार करती रहीं…

दोस्तों को बताएं :
Read More

ललित कला अकादमी के सचिव सुधाकर निलंबित

sudhakar_413x531_61484089569

ललित कला अकादमी के सचिव सुधाकर शर्मा को उनके खिलाफ अनुशासनात्मक प्रक्रिया पूरी होने के बाद निलंबित कर दिया गया| विभिन्न प्रशासनिक लापरवाहियों और वित्तीय अनियमितताओं को लेकर उनके खिलाफ कार्रवाई चल रही थी|शर्मा को अक्तूबर, 2015 में भारत की प्रतिष्ठित कला अकादमी का सचिव नियुक्त किया गया था| अकादमी के कार्यालय से जारी आदेश में कहा गया कि “2015 से सुधाकर शर्मा द्वारा ललित कला अकादमी का सचिव पद संभाले जाने के बाद उनके खिलाफ लगे आरोपों में अनुशासनात्मक कार्रवाई पूरी हो गई है| इसलिए, अब अनुशासन प्राधिकार, तत्काल…

दोस्तों को बताएं :
Read More

काका साहेब कालेलकर सम्मान अर्पण

kaka-kalelkar-samman-%e0%a4%95%e0%a4%be%e0%a4%95%e0%a4%be-%e0%a4%95%e0%a4%be%e0%a4%b2%e0%a5%87%e0%a4%b2%e0%a4%95%e0%a4%b0-%e0%a4%b8%e0%a4%ae%e0%a5%8d%e0%a4%ae%e0%a4%be%e0%a4%a8

काका साहेब कालेलकर के दिसंबर में जंमदिन के उपलक्ष्य में कला, संगीत, साहित्य, शिक्षा और पत्रकारिता के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने वाली 5 हस्तियों को सम्मानित किया गया ।दिसंबर 31 को गांधी हिंदुस्तानी साहित्य सभा के प्रांगण में आयोजित सादे समारोह मैं वरिष्ट कथाकार ममता कालिया द्वारा वरिष्ट साहित्यकार श्री प्रेम पाल शर्मा की अध्यक्षता में सम्मान प्रदान किए गये ।विशिष्ट अतिथि के रूप में डाॅ अमर नाथ अमर और रमेश शर्मा के साथ डॉ सुरेश शर्मा, नंदन शर्मा, अनिता प्रभाकर, अर्चना प्रभाकर, अनुराधा आदि ने सम्मानितों को शुभकामनाएं…

दोस्तों को बताएं :
Read More

सृजन की दुनियां

sahitya

दुनियां में एक तरफ जहां युद्ध और नफ़रतें हैं तो वहीं दूसरी तरफ सृजनकर्मियों का गढ़ा हुआ बहुत बड़ा रचना संसार भी है| यह ऐसी दुनियां है जहाँ बमों, तलवारों और त्रिशूलों के लिए कोई जगह नहीं है बल्कि इस दुनियां में रंग हैं, संगीत है, धुनें हैं, कविता, गीत और ग़ज़ल है, रुपहले पर्दे के रंगीनियत है, रंगमंच की जादूगरी है, महान संस्कृतियों का गौरव है, जहाँ कुछ गढ़ने की दीवानगी है| मनुष्य के नैसर्गिक गुणों में सबसे महान गुण है – सृजन करना| हम प्रतिपल कुछ रच रहे…

दोस्तों को बताएं :
Read More