आसान नहीं है बद्री नारायण लाल हो जाना

b n lal

बिहार कम्युनिष्ट पार्टी के इतिहास में 21 मई 2017 कभी नहीं भुल पाने वाली वह तारीख है, जब साम्यवादी आन्दोलन का एक चमचमाता लाल सितारा अपने साथियों को हमेशा के लिए अलविदा कह गया| गत 31 मई को पटना के आईएमए सभागार में भारतीय कम्युनिष्ट पार्टी ने दिवंगत कॉमरेड बद्री नारायण लाल की स्मृति में सर्वदलीय श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया| श्रद्धांजलि सभा में बद्री बाबू की जीवनी और उनके योगदानों पर विस्तार से बातें हुई| तमाम वक्ताओं ने उनसे जुड़े संस्मरण साझा किए| अपनी सरलता और सहजता से किसी…

दोस्तों को बताएं :
Read More

सबके प्यारे बद्री बाबू नहीं रहे

BNLAL
b n lal

वेल्लौर (तमिलनाडु), 21 मई 2017 बिहार के कम्युनिष्ट आन्दोलन के मजबूत स्तम्भ और भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी की बिहार राज्य परिषद के पूर्व सचिव कॉमरेड बद्री नारायण लाल का आज दोपहर 03:30 बजे वेल्लौर के एक अस्पताल में इलाज के दौरान हो गया। वे काफी दिनों से बीमार चल रहे थे| पिछले 2 दिसंबर को उन्हें वेल्लौर में ही पेसमेकर लगाया गया था, जिसके बाद वह प्रायः सामान्य जीवन जी रहे थे, परंतु गत 17 मार्च से लगातार बुखार रहने और अनेक प्रकार की व्याधियों से ग्रसित होने के उपरांत उन्हें…

दोस्तों को बताएं :
Read More

नहीं रहे पद्मश्री गुजराती लेखक तारक मेहता

taarak-mehta_650x400_51488357409

लोकप्रिय गुजराती नाटककार तारक मेहता का लंबी बीमारी के बाद1 मार्च की सुबह निधन हो गया| वह 88 वर्ष के थे| मीडिया की खबरों के मुताबिक, मेहता के परिवार ने उनके निधन की पुष्टि की|  साथ ही अंगदान के संकेत भी दिए| लेखक के रिश्तेदार डॉक्टर अतुल भट्ट ने कहा “वह अब नहीं रहे|” बता दें कि तारक मेहता का उनके गुजराती मैगजीन में छपने वाले प्रसिद्ध कॉलम ‘दुनिया ने औंधों चश्मा’ के लिए जाना जाता था| उनके इसी कॉलम और उनकी किताब पर प्रसिद्ध टीवी सीरियल ‘ताकर मेहता का उल्टा चश्मा’…

दोस्तों को बताएं :
Read More

नहीं रहे नोबलिस्ट अर्थशास्त्र केनेथ जे ऐरो

FILE - This Feb. 13, 2006 file photo President George W. Bush, right, presents the National Medal of Science to Dr. Kenneth J. Arrow, left, from Stanford University, during a ceremony in the East Room of the White House in Washington. Arrow, the youngest ever winner of a Nobel prize for economics, has died. His son, David, says Arrow died on Tuesday, Feb. 21, 2017, at his home in Palo Alto. (AP Photo/Pablo Martinez Monsivais, File)FILE - This Feb. 13, 2006 file photo President George W. Bush, right, presents the National Medal of Science to Dr. Kenneth J. Arrow, left, from Stanford University, during a ceremony in the East Room of the White House in Washington. Arrow, the youngest ever winner of a Nobel prize for economics, has died. His son, David, says Arrow died on Tuesday, Feb. 21, 2017, at his home in Palo Alto. (AP Photo/Pablo Martinez Monsivais, File)

अर्थशास्त्र के लिए सबसे कम उम्र में नोबेल पुरस्कार जीतने वाले केनेथ जे ऐरो का निधन हो गया। वह 95 साल के थे। उनके जोखिम, नवोन्मेष एवं बाजार के बुनियादी गणित संबंधी सिद्धांतों ने स्वास्थ्य बीमा से लेकर उच्च वित्त तक सभी पर सोच को प्रभावित किया था। केनेथ जे ऐरो के पुत्र डेविड ऐरो ने बताया कि “उनका निधन 21 फरवरी को सैन फ्रांसिस्को बे इलाके के पालो अल्टो स्थित घर में हो गया।” उन्होंने बताया “वह बहुत प्यारे इंसान, अच्छे पिता होने के साथ बहुत विनम्र व्यक्ति थे। उन्हें…

दोस्तों को बताएं :
Read More

पानी के अनुपम पुरोधा

winner09-anupam-mishra

 ♦ राजकुमार कुम्भज प्रख्यात गाँधीवादी अनुपम मिश्र सच्चे अर्थों में अनुपम थे। वह पानी मिट्टी पर शोध के अलावा चिपको आन्दोलन में भी सक्रिय रहे वे कर्म और वाणी के अद्वैत योद्धा थे। बड़ी-से-बड़ी सच्चाई को भयरहित, स्वार्थरहित, दोषरहित और पक्षपातरहित बोल देने के लिये प्रतिबद्ध थे। अनुपम मिश्र गाँधी शान्ति प्रतिष्ठान के ट्रस्टी और राष्ट्रीय गाँधी स्मारक निधि के उपाध्यक्ष रहे। वह ऐसे पहले भारतीय थे, जिन्होंने पर्यावरण पर ठीक तब से काम और चिन्तन शुरू कर दिया था जबकि देश में पर्यावरण का कोई भी सरकारी विभाग तक…

दोस्तों को बताएं :
Read More

बॉलीवुड अभिनेता ओमपुरी का दिल का दौरा पड़ने से निधन

507308-om-puri-ja

पद्मश्री ओम पुरी का 66 वर्ष की उम्र में दिल का दौरा पड़ने से निधन आज सुबह मुंबई में निधन हो गया।ओम पुरी का जन्म 18 अक्टूबर 1950 में हरियाणा के अम्बाला शहर में हुआ था।  उन्होंने अपनी प्रारंभिक शिक्षा अपने ननिहाल पंजाब के पटियाला से पूरी की। उन्हें भारत सरकार द्वारा पद्मश्री की उपाधि दी गई और उन्होंने ‘आरोहण’ और ‘अर्धसत्य’ के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का राष्ट्रीय पुरस्कार हासिल किया था| 1976 में पुणे फिल्म संस्थान से प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद ओमपुरी ने लगभग डेढ़ वर्ष तक एक स्टूडियो…

दोस्तों को बताएं :
Read More