गुरमेहर कौर विवाद: किरण रिजिजू को जावेद अख्तर ने दिया करारा जवाब

jawed-akhterरामजस कॉलेज में हिंसा के बाद गुरमेहर कौर द्वारा शुरू किए गए कैंपेन पर मचे विवाद में अब नेताओं के साथ-साथ सिने जगत के लोग भी कूद पड़े हैं।28 फ़रवरी को एक के बाद एक सितारों के बयान आते रहे। बॉलीवुड गीतकार जावेद अख्‍तर ने गुरमेहर पर निशाना साधने वाले क्रिकेटर विरेंदर सहवाग और महिला पहलवान बबिता फोगाट का नाम लिए बिना ट्वीट कर कहा “अगर कम पढ़े लिखे खिलाड़ी और पहलवान किसी शहीद की बेटी को ट्रॉल करते हैं तो समझ में आता है, लेकिन कुछ पढ़े-लिखे लोगों को क्या हो गया।”

भारत के कनिष्ठ गृह मंत्री किरण रिजिजू ने 27 फ़रवरी को बेहद अशोभनीय बयान दिया था। जिसमें उन्होंने कारगिल शहीद की बेटी का विरोध करने वाले और बलात्कार की धमकी देने वालों पर टिप्पणी करने की बजाय गुरमेहर कौर की मानसिकता को ही प्रदूषित बता दिया था। अब गीतकार जावेद अख्तर ने गुरमेहर कौर के बचाव में उतर आए है उन्होंने दो टूक जवाब किरण रिजिजू को दिया है।

गीतकार जावेद अख्तर ने रिजिजू का नाम लिए बिना उन पर निशाना साधा है। जावेद अख्तर ने ट्वीटर पर लिखा है “उसके बारे में तो पता नहीं। लेकिन मंत्री जी, मैं यह जानता हूं कि आपका दिमाग किसने खराब किया है।”

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने रिजिजू की टिप्पणी का जवाब देते हुए कहा “श्रीमान मंत्री, आपने वामपंथियों पर सैनिक के शहीद होने का जश्न मनाने का झूठा आरोप लगाकर निंदा की और एबीवीपी के बारे में एक शब्द भी नहीं कहा।” अख्तर ने कहा “मुझे उसके बारे में नहीं पता लेकिन श्रीमान मंत्री मुझे पता है कि आपका दिमाग कौन दूषित कर रहा है।”

गुरमेहर कौर ने एबीवीपी के खिलाफ सोशल मीडिया पर एक कैम्पेन चलाया था। क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग ने एक ट्वीट करके गुरमेहर कौर का मजाक उड़ाया था। सहवाग ने ट्वीट किया था “मैंने दो ट्रिपल सेंचुरी नहीं बनाई है, मेरे बल्ले ने ऐसा किया।” सहवाग ने गुरमेहर कौर की एक पुरानी तस्वीर का संदर्भ देते देते हुए ट्वीट किया था। इस तस्वीर में गुरमेहर कौर ने एक तख्ती पकड़ी हई है, जिस पर लिखा हुआ है, “मेरे पिता को पाकिस्तान ने नहीं, बल्कि युद्ध ने मारा है।”

लेखन / प्रस्तुति :

हिंद वॉच मीडिया
हिंद वॉच मीडिया
हिंद वॉच मीडिया जमीनी सरोकारों से जुड़ी जनपक्षधरता की पत्रकारिता कर रही है| समूह अपने साप्ताहिक अखबार, न्यूज़ पोर्टल और सोशल मीडिया नेटवर्क के माध्यम से जमीनी और वास्तविक ख़बरों को निष्पक्षता के साथ अपने पाठकों तक पहुंचाती है| भारत और विदेशों में यह वेब पोर्टल पढ़ा जा रहा है|
यह भी पढ़ें :   राष्ट्रपति की बेटी बोलीं, भाजपा शासित प्रदेशों में महिला उत्पीड़न सबसे ज्यादा
ताजा खबरें :
दोस्तों को बताएं :

यह भी पढ़े