क्या मुस्लिम मतदाताओं के हाथ में है उत्तर प्रदेश का सियासी भविष्य ?

Voters show their voter identity cards as they wait for their turn to cast their ballot during the Madhya Pradesh state assembly election, at a polling booth in Bhopal November 27, 2008. REUTERS/Raj Patidar (INDIA)Voters show their voter identity cards as they wait for their turn to cast their ballot during the Madhya Pradesh state assembly election, at a polling booth in Bhopal November 27, 2008. REUTERS/Raj Patidar (INDIA)

प्रदेश की सत्ता पर काबिज़ सपा ने कांग्रेस से हाथ मिला कर मुस्लिम वोटों के ध्रुवीकरण को रोकने की जोरदार कोशिश की है| भाजपा कैराना के पलायन और राम मंदिर के मुद्दे के को गरमाकर हिन्दू वोट को एकजुट करके लोकसभा चुनाव की तरह जीत दर्ज करने ने की फ़िराक में नजर आ रही है| गरम लोहे पर हथौड़ा मारते हुए बसपा सुप्रीमो मायावती ने यह कहकर कि चुनाव परिणामों की घोषणा के बाद किसी भी कीमत पर बसपा का बीजेपी के साथ गठबंधन नहीं होगा, मुस्लिम मतदाताओं का विश्वास…




दोस्तों को बताएं :
Read More

मेरे पास जो कुछ भी था सब दे दिया,पार्टी को टूटने नहीं दूंगा : मुलायम सिंह यादव

mulayam-singh_1484125205

समाजवादी पार्टी में चल रही राजनितिक उठा पटक के बीच सुलह की कोशिशे भी तेज़ हो गई और लग रह है अब हालात सामान्य हो जायेगें|11जनवरी को सपा दफ्तर पर पहुचे मुलायम सिंह यादव के तेवर बहुत नरम दिखे और उन्होंने कहा कि “हमारी पार्टी की एकता में बाधा नहीं पड़नी चाहिए| मुझे मालूम है कौन पार्टी को तोड़ने में लगा है| पार्टी की एकता के लिए पूरा समय दिया है|” मुलायम सिंह ने आगे बोलते हुए कहा कि “मेरे पास जो कुछ भी था सब दे दिया|” उन्होंने कहा…




दोस्तों को बताएं :
Read More

अखिलेश से पौने दो घंटे तक चली मुलाकात

akhilesh-yadav_650x400_51447595595

विधानसभा चुनावों में समाजवादी पार्टी सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव ने अखिलेश की सीएम पद पर दावेदारी स्वीकार करने के बाद 10जनवरी को अखिलेश से करीब पौने दो घंटे तक मुलाक़ात की। सूत्रों के मुताबिक मुलायम ने अखिलेश को एक बार फिर भरोसा दिलाया कि यूपी में सीएम का चेहरा वह ही होंगे। सूत्रों की माने तो मुलायम ने कहा कि “पार्टी के अध्यक्ष वही बने रहेंगे। सूत्रों की मानें तो मुलायम ने अखिलेश से चुनाव आयोग को दिया गया पत्र वापस मांगने को भी कहा है।वहीं मुलायम ने यह भी साफ…




दोस्तों को बताएं :
Read More

पोती से बोले मुलायम सिंह ‘जिद्दी है तुम्हारा बाप’

akhilesh-yadav-family-1

एक तरफ मुलायम सिंह यादव और उनके बेटे अखिलेश यादव के बीच राजनीतिक जंग छिड़ी हुई है| इस बीच एक ही घर में रह रहे इस परिवार में ऐसा लग रहा है मानो अलग अलग खेमे में बंट गए हैं| लेकिन इस तनाव के बीच शांति और सुलह बहाली के मिशन पर परिवार के दो सदस्य जुटे हुए हैं वह मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की बेटी 15 साल की अदिति और 10 साल की टीना| एनडीटीवी की खबर के मुताबिक सियासी खींचतान के बीच कुछ दिनों पहले सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव ने अपनी…




दोस्तों को बताएं :
Read More

चुनाव के बाद अखिलेश यादव ही सीएम होंगे, समाजवादी पार्टी एकजुट : मुलायम सिंह यादव

mulayam-singh-yadav_650x400_61483879190

समाजवादी पार्टी में मचा दंगल अब ख़तम होता नज़र आ रहा है| मुलायम सिंह यादव ने हुए कहा है कि “समाजवादी पार्टी एकजुट है और चुनावों के बाद अखिलेश यादव ही अगले मुख्यमंत्री होंगे|” मुलायम ने कहा कि पार्टी में एकता के लिए पूरे प्रयास जारी हैं और पार्टी न टूटी है और न टूटेगी| उन्होंने यह भी कहा कि “वह जल्द ही चुनाव प्रचार करने के लिए निकलेंगे और हर मंडल में एक-एक सभा करेंगे| “ इससे पहले दिन में मुलायम सिंह यादव ने इस बात पर जोर दिया…




दोस्तों को बताएं :
Read More

मेरे बेटे को कुछ लोगों ने बहका दिया है : मुलायम सिंह

msid-56418510width-400resizemode-4untitled-5

सपा में तख्तापलट होने के बाद अब पार्टी के चुनाव चिन्ह की लड़ाई चुनाव आयोग में चाल रही है| चुनाव चिन्ह साइकल पर दावे को लेकर मुलायम सिंह यादव ने चुनाव आयोग में मुलाकात की।मुलाकात के बाद मुलायम सिंह यादव ने कहा कि “सिंबल का मामला चुनाव आयोग में है। इसका फैसला आयोग से ही होगा।” मुलायम ने आगे कहा कि “हमारी पार्टी में थोड़ा बहुत ही मतभेद है। मेरे बेटे को कुछ लोगों ने बहका दिया है।”उन्होंने रामगोपाल की ओर इशारा करते हुए उन्होंने कहा कि “बेटे से कोई विवाद…




दोस्तों को बताएं :
Read More