प्रतीकात्मक चित्र
Print Friendly, PDF & Email

मंदसौर, मध्यप्रदेश से गौरव त्रिपाठी की रिपोर्ट 
राज्य में चुनाव आचार संहिता लगते ही पुलिस चप्पे-चप्पे पर वाहनों की सघन चेकिंग कर रही है। इसी क्रम में मंदसौर जिले के दलोदा चौकी क्षेत्र में पुलिस ने सघन तलाशी के दौरान एक बोलेरो से 25 लाख रुपए मिले जिसे पुलिस ने बरामद कर लिया है।

यह वाहन दलोदा के ही एक व्यापारी नितिन जैन का बताया जा रहा है। पूछताछ के दौरान व्यापारी नितिन जैन ने बताया कि, यह पैसा मंदसौर बैंक से लेकर आ रहे थे जिसका बैंक डिटेल और चेक बुक भी उसके पास मौजूद है लेकिन पुलिस मानने को तैयार नहीं थी, कई घंटों से उन्हें थाने में रोक रखा है।

इस घटना की खबर के बाद दलोदा मंडी के व्यापारी थाने पर पहुंच गए। वहीं दूसरी ओर व्यापारियों को का कहना है कि आचार संहिता के नाम पर परेशान किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि आचार संहिता का पालन हो लेकिन सीजन के समय किसानों को नगद पैसा देना पड़ता है और दलोदा मंडी में बड़े स्तर पर अनाज का व्यापार होता है।

ऐसे में यदि रुपयों के हिसाब किताब को लेकर उन्हें इस तरह परेशान किया जाएगा तो किसान को समय पर पैसा नहीं पहुंचेगा और वह हंगामा कर देंगे। व्यापारियों ने यह भी बताया कि यदि कल तक इस समस्या का निराकरण नहीं हुआ तो वह दलोदा मंडी में जाना ही बंद कर देंगे।

गौरतलब है कि मंदसौर जिला किसान आंदोलन के बाद अति संवेदनशील माना जाता है और जिले में अफीम तथा अन्य मादक पदार्थों की भी काफी तस्करी होती है।

वहीं दूसरी ओर प्रशासन की ओर से डिप्टी कलेक्टर का कहना है कि यह मामला 10 लाख की राशि से ज्यादा का है जिसके लिए इनकम टैक्स के अधिकारी इसकी जांच करेंगे और वही इस मामले का अंतिम निराकरण करेंगे। इस पूरे मामले को लेकर असमंजस में बनी रही और अंततः इनकम टैक्स के अधिकारियों ने 25 लाख रुपए सुरक्षित रखवा दिए और सुबह इस मामले की रिपोर्ट देने की बात की। हालांकि इनकम टैक्स विभाग के किसी भी अधिकारी ने मीडिया से बात करने के लिए मना कर दिया। कई घंटो तक व्यापारी हिसाब किताब के कागज लेकर घूमते रहे लेकिन डिप्टी कलेक्टर के आगे उनकी एक न चली।