Print Friendly, PDF & Email

ग्रासरूट रिपोर्टर धर्मेन्द्र पंडा की रिपोर्ट
सिमडेगा, झारखंड
झारखंड का सिमडेगा जिला मानव तस्करी का बहुत बड़ा हब माना जाता है। नाबालिग लड़कियों को बहला फुसलाकर उन्हें काम दिलाने के बहाने शहर में ले जाकर बेच दिया जाता है। ऐसे ही एक पुराना मामला प्रकाश में आया। झारखंड पुलिस की नजर में फरार कुख्यात मानव तस्कर प्रभा मिंज मुन्नी को दिल्ली की एटीएस की टीम ने रविवार को दिल्ली के पंजाबी बाग से गिरफ्तार किया।

प्रभा के खिलाफ सिमडेगा के एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग थाना में वर्ष 2013 में केस दर्ज हुआ था। इस केस में वह पुलिस की नजर में फरार चल रही थी। गिरफ्तारी की सूचना दिल्ली एटीएस ने झारखंड पुलिस को दी। सूचना के बाद सिमडेगा एस पी संजीव कुमार ने सिमडेगा पुलिस की एक टीम गठित कर दिल्ली के लिए भेज दिया है। सिमडेगा पुलिस दिल्ली पहुंचने के बाद उसे केस में ट्रांजिट रिमांड पर सिमडेगा ला सकती है। प्रभा वर्तमान में पंजाबी बाग थाना क्षेत्र के वेस्ट दिल्ली में रहती थी।

पूर्व में यह बात सामने आ चुकी है कि सोशल मीडिया और फेसबुक के जरिए झारखंड की युवतियों को काम दिलाने के नाम पर अपनी और आकर्षित करती थी। वह दिल्ली में काम दिलाने के नाम पर झारखंड की कई लड़कियों को बेच चुकी हैl जिला प्रशासन प्रभा मिंज की गिरफ्तारी को उपलब्धि के नजरिए से देख रही है। सिमडेगा जिले के मानव तस्करी के कई मामलों का प्रभा खुलासा कर सकती है।
पोस्टल पिन कोड 835201 835211 835212 835223 835226 835228