Print Friendly, PDF & Email
15622501_10154932014191929_2666329632481626344_n-1
78 दिनों बाद कृषक मुक्ति संग्राम के नेता अखिल गोगोई को 78 दिनों बाद 19 दिसंबर 2016 को जमानत मिल गई। आपको बता दें कि 2 अक्टूबर 2016 को अखिल गोगोई को गिरफ्तार किया गया था| जमानत मिलने के तुरंत बाद अखिल ने गोलाघाट में एक विशाल जनरैली को संबोधित किया।
कृषक मुक्ति संग्राम के नेता अखिल गोगोई ने रैली में कहा कि “भाजपा सरकार असम के नागरिक कानून में संशोधन करके असम समझौते को बदलने का प्रयास कर रही है। केएमएसएस इस पहल के खिलाफ संगठित होकर लड़ाई लड़ेगी।”
उन्होंने नीलामी के जरिये असम की तेल क्षेत्रों के निजीकरण के खिलाफ भी जंग छेड़ने का निर्णय किया और असम लोक सेवा आयोग में भ्रष्टाचार के लिए चल रही जांच पर तार्किक निष्कर्ष तक पहुंचाने का संकल्प लिया।