Print Friendly, PDF & Email

नई दिल्ली : जेडीयू अध्यक्ष नीतीश कुमार ने जब बिहार में महागठबंधन से अलग होकर बीजेपी के साथ मिलकर सरकार बनाने का फैसला किया, तब से ही नीतीश के इस कदम का मुखर विरोध करने वाले जेडीयू के दो वरिष्ठ नेताओं शरद यादव और अली अनवर की राज्य सभा सदस्यता जेडीयू की पहल के बाद सोमवार (4 दिसम्बर) को समाप्त कर दी गयी है| इस सम्बन्ध में जेडीयू ने नवंबर में राज्यसभा के सभापति के सामने इन दोनों नेताओं के पार्टी विरोधी कामों के कारण उनकी सदस्यता को रद्द कराने का प्रस्ताव रखा था| जेडीयू द्वारा राज्यसभा सचिवालय में शिकायत दर्ज कराये जाने के बाद उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने दोनों नेताओं की सदस्यता समाप्त करने का फैसला लिया। राज्य सभा में जेडीयू के नेता आरसीपी सिंह की याचिका पर यह आदेश आया है| राज्य सभा सचिवालय के अनुसार संविधान की दसवीं अनुसूची के पैरा 2 (1) (a) के अनुसार दोनों नेताओं की सदस्यता रद्द की गई। राज्यसभा में पार्टी के नेता आर सी पी सिंह ने इसकी पुष्टि की।

जेडीयू अध्यक्ष नीतीश कुमार ने नवंबर में राज्यसभा के सभापति के सामने इन दोनों नेताओं के पार्टी विरोधी कामों के कारण उनकी सदस्यता को रद्द कराने का प्रस्ताव रखा था| 17 नवंबर को चुनाव आयोग ने नीतीश कुमार को पार्टी अध्यक्ष मानते हुए उन्हें पार्टी का चुनाव चिन्ह ‘तीर’ रखने का निर्देश दिया था| इसके बाद ही माना जा रहा था कि इन दोनों नेताओं को अपनी सदस्‍यता से हाथ धोना पड़ सकता है| अगस्त में ही जेडीयू ने शरद यादव को राज्य सभा में पार्टी के नेता के पद से हटा दिया था और उनकी जगह आरसीपी सिंह को नेता बनाया गया था| पार्टी नेताओं के खिलाफ जाकर उन्‍होंने राजद प्रमुख लालू प्रसाद की ‘बीजेपी भगाओ देश बचाओ’ रैली में हिस्‍सा लिया था और उसके मंच से नीतीश कुमार पर निशाना भी साधा था|

नीतीश कुमार द्वारा महागठबंधन से नाता तोड़कर बीजेपी के साथ सरकार बनाने पर अली अनवर ने साफ़ कह दिया था कि यह बिहार की जनता के साथ धोखा है और उनका ज़मीर इस बात की इजाज़त नहीं देता है कि वे नीतीश के इस फैसले का समर्थन करें| शरद यादव का टर्म अभी 5 साल बाकी था जबकि अली अनवर का 6 महीने बाकी है।

अली अनवर ने इस सम्बन्ध में ANI के ट्विट का जवाब देते हुए कहा है कि “जब मैं राजकोट में एक बैठक को संबोधित कर रहा था, तब इस बारे में सूचना मिली| मैं शरद यादव जी से बात करूँगा और हमलोग एक साथ आगे के फैसले लेंगें|”

निम्नलिखित ट्वीट के माध्यम से ANI ने इस ख़बर की पुष्टि की है :