Tuesday, April 23, 2019
Home Authors Posts by सुशील स्वतंत्र

सुशील स्वतंत्र

25 POSTS 0 COMMENTS
पत्रकार, लेखक और सामाजिक कार्यकर्ता सुशील, समानता और लोकतंत्र में गहरी आस्था रखते हैं। अनेक प्रतिष्ठित पत्र–पत्रिकाओं एवं साहित्यिक ई–पोर्टल्स में उनकी कविताएँ, आलेख और लघुकथाएँ प्रकाशित हो चुकी है। ग्रास-रूट जर्नलिज्म (ज़मीनी पत्रकारिता) उनके काम की विशेषता है। लेखन के साथ–साथ सामाजिक–सांस्कृतिक क्षेत्र में भी वे बेहद सक्रिय हैं। उन्होंने लम्बे समय तक एच.आई.वी./एड्स जागरूकता और बचाव के लिए उच्य जोखिम समूह के साथ काम किया है। वे असंगठित कामगारों के अधिकारों के लिए भी संघर्षशील हैं। सुशील हिंद वॉच मीडिया समूह के संपादक हैं।
साम्यवाद का काबा माना जाने वाला सोवियत संघ जब भरभराकर ढ़ह गया, तब यह कहा गया कि विश्व की पूंजीवादी शक्तियों ने पूरी ताकत के साथ समाजवाद का अंत कर दिया। लेकिन उन विपरीत हवाओं में भी भारत में...
नया साल हर तीन सौ पैंसठ दिनों के बाद आ जाता है लेकिन 2018 के पहले दिन को हम इस लिहाज से अलग कह सकते हैं कि इस दिन ने देश के दो युद्ध स्मारकों को भी जातीय बहस...
मिर्ज़ा असद-उल्लाह बेग ख़ां “ग़ालिब” जिन्हें हम प्यार से चचा ग़ालिब पुकारते हैं, उनका जिक्र तब तक रहेगा, जब तक इस दुनिया में शायरी रहेगी| चचा ग़ालिब उर्दू एवं फ़ारसी भाषा के महान शायर थे। इनको उर्दू भाषा का सर्वकालिक...
समय के साथ-साथ भारत रत्न डा. बी. आर. अंबेडकर की प्रासंगिकता और महत्व भारतीय राजनीति एवं सामाजिक चेतना के उत्थान में अहम होते चले जा रहे हैं| यहाँ तक कि दक्षिणपंथी ताकतों ने भी डॉ. अंबेडकर पर दावेदारी शुरू...
मुंबई : “मेरे पास माँ है” जैसे लोकप्रिय डायलॉग को अपने अनोखे अंदाज़ में डिलीवर करने वाले जाने-माने फिल्म अभिनेता शशिकपूर का सोमवार (4 दिसम्बर 2017) को 79 साल की उम्र में निधन हो गया है। वह काफी लंबे...
दुनिया के पहले आधिकारिक को-वर्किंग स्पेस की शुरुआत 2005 में सैन फ्रांसिस्को में एक प्रोग्रामर ब्रैड न्यूबर्ग ने की। ग्लोबल को-वर्किंग सर्वे के मुताबिक 2016 के अंत तक 10000 नए को-वर्किंग स्पेस शुरू होने जा रहे हैं। डिजिटल मार्केटिंग...
सरकार आधार कार्ड के नाम पर आम जनता का निजी डाटा जबरन जमा करवा रही है. बाद में पता चलता है कि वाही डाटा निजी कम्पनियों को मोटे दाम पर बेचा गया है. और अब निजी कम्पनिया  बिना दिन...
अहमदाबाद : इन दिनों बार-बार वित्त मंत्री अरुण जेटली को घेरने वाले भाजपा के दिग्गज नेता और अटल सरकार में वित्त मंत्री रह चुके यशवंत सिन्हा ने एक बार फिर उनको गुजरात की जनता पर बोझ कहा है| इस...
नई दिल्ली : बीजेपी के सांसद जीएसटी शत्रुघ्न सिन्हा ने ट्वीट करके अपनी ही पार्टी की फजीहत कर दिया है| उन्होंने कहा है 'इस पोस्ट ने सोच में डाल दिया.. अगर 'नोटबंदी' से लोग खुश होते तो जश्न सरकार...
कम्युनिष्ट पार्टी के इतिहास में 21 मई 2017 कभी नहीं भुल पाने वाली वह तारीख है, जब साम्यवादी आन्दोलन का एक चमचमाता लाल सितारा अपने साथियों को हमेशा के लिए अलविदा कह गया। 31 मई 2017 को पटना के...