Print Friendly, PDF & Email

नेताओं के बयान सुनकर आजकल तालीबान याद आ जाए तो कोई बड़ी बात नहीं है, क्योंकि आजकल ये नेता ऐसा ऐसा बोल जाते हैं जो सिर्फ आतंकी संगठन ही अपने फतवेबाजी में बोलते थे, कोई हाथ काटने या सर काटने का एलान करता है तो कोई घर में घुसकर मारने की धमकी देता है, ऐसे में एक नेता का बयान गौरतलब है। कर्नाटक के गृह मंत्री रामालिंगा रेड्डी ने अपने इस बयान से विवाद खड़ा कर दिया है कि बीजेपी के कुछ नेता आतंकवादी संगठन आईएसआईएस की तरह बर्ताव कर रहे हैं। उधर, विवाद बढ़ने पर रेड्डी ने सफाई दी है। उन्होंने कहा, ‘मैंने कभी सभी भाजपा नेताओं को आतंकी नहीं कहा। मैंने कहा था कि केवल कुछ बीजेपी नेता आईएसआईएस की तरह बर्ताव कर रहे हैं।’

उनसे बेलगावी में बीजेपी नेताओं को आतंकवादी करार देने पर उनके कथित बयान के बारे में पूछा गया था। रेड्डी ने कहा, ‘मैं आईएसआई, आईएसआईएस और जिहादियों की निंदा करने वाला पहला शख्स हूं। ये (बीजेपी) नेता भड़काऊ बयान देकर राज्य में सांप्रदायिक भावना को उकसाने का प्रयास कर रहे हैं.

उन्होंने केंद्रीय कौशल विकास और उद्यमिता राज्यमंत्री अनंत कुमार हेगड़े और लोकसभा में बीजेपी सांसद प्रताप सिम्हा पर लोगों को भड़काने का आरोप लगाया। विपक्षी बीजेपी ने रेड्डी के इस बयान पर तीखी प्रतिक्रिया देते हुए आरोप लगाया कि प्रदेश को चलाने वाले इस तरह की सोच के लोगों की वजह से कर्नाटक जिहादी गतिविधियों का हब बन गया है।

मंत्री ने कहा, ‘मेरा बयान मूल रूप से इन दोनों नेताओं के खिलाफ था जो राज्य में शांति बाधित करने का प्रयास कर रहे हैं।’ रेड्डी ने कहा कि वह जब से गृह मंत्री बने हैं, देख रहे हैं कि कुछ बीजेपी नेता जनता को भड़काने की कोशिश कर रहे हैं। रेड्डी पर पलटवार करते हुए प्रदेश के वरिष्ठ बीजेपी नेता एस सुरेश कुमार ने अपने फेसबुक पेज पर लिखा, ‘हम सबकी तुलना आईएसआईएस के साथ की गयी है। मैं जानना चाहता हूं कि पुलिस हमें पकड़ेगी या हमें पुलिस के सामने समर्पण करना है।

बीजेपी सांसद शोभा करंदलजे ने ट्वीट किया, ‘प्रदेश को चलाने वाले इस तरह की सोच के लोगों की वजह से कर्नाटक जिहादी गतिविधियों का हब बन गया है।’ उन्होंने एक और ट्वीट किया, ‘बीजेपी की तुलना आतंकवादियों से करने के एचएम रेड्डी के बयान की कड़ी निंदा करती हूं। क्या मंत्री अपना विवेक खो चुके हैं या जिहादियों के तुष्टीकरण की कोशिश कर रहे हैं।
बता दें, सिम्हा को कुछ दिन पहले मैसूरु जिले के हुंसूर में हनुमान जयंती के समारोह को कथित रुप से प्रतिबंधित करने के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान गिरफ्तार किया गया था। उसके बाद रेड्डी ने बीजेपी पर हमला बोला था। पुलिस के अनुसार हाल ही में बेलगावी जिले के कित्तूर में भाषण के दौरान कथित तौर पर मुख्यमंत्री सिद्धरमैया के खिलाफ अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल करने के लिए हेगड़े के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।