(तस्वीर : हिंद वॉच)
Print Friendly, PDF & Email

ग्रासरूट रिपोर्टर धर्मेन्द्र पंडा की रिपोर्ट
सिमडेगा, झारखंड
कोलेबिरा के ग्रामीणों को नहीं ग्रामीण जलापूर्ति योजना का लाभ मिल पा रहा है। विगत 1 वर्ष पूर्व ही वाटर ट्रीटमेंट प्लांट का निर्माण प्रखंड मुख्यालय से बिल्कुल नजदीक किया गया है और इंटेकवेल का निर्माण महज प्रखंड मुख्यालय से 1.5 किलोमीटर की दूरी शिव मंदिर स्थित डैम में किया गया है। करोड़ों रुपयों की लागत से बनी ग्रामीण जलापूर्ति योजना का लाभ ग्रामीणों को पूरी तरह से नहीं मिल पा रहा है।

बरवाडिह रोड स्थित सिमर रोली के ग्रामीणों का कहना है कि पाइप तो 1 वर्ष पूर्व ही बिछा दिया गया है, पर आज तक पानी की एक बूंद नहीं मिली है। समाज सेवी आलोक बागे का कहना है कि रन बहादुर सिंह चौक से लेकर कोलेबिरा बस स्टैंड, पहाड़ टोली, मुस्लिम मोहल्ला एवं बानो रोड होते हुए बरवाडीह मोड़ तक ग्रामीणों को ग्रामीण जलापूर्ति योजना का लाभ अभी तक नहीं मिल पाया है। संबंधित विभाग को इसकी सूचना दे दी गई है जल्द से जल्द ग्रामीणों को योजना का लाभ मिल पाएगा।

तस्वीर : हिंद वॉच

वही मुस्लिम मोहल्ला निवासी मिनाज अहमद का कहना है कि वर्षों से हम मोहल्ला वासी पानी की समस्या से जूझ रहे हैं। पाइप बिछाने के कर्म में भी कांट्रेक्टर को बताया था कि इधर भी पानी पाइप बिछाव कॉन्ट्रैक्टर द्वारा आश्वासन भी दिया गया था कि मोहल्ला तक पाइप बिछा दिया जाएगा, पर आज तक कॉन्टेक्टर द्वारा पाइप नहीं बिछाया गया है। इसलिए मोहल्लावासी उग्र आंदोलन करने की तैयारी में है।

भवर पहाड़ निवासी अमरनाथ सिंह कहना है भवर पहाड़गड़ कोलेबिरा प्रखंड का पर्यटक स्थल है ओर यहां जगनाथ महाप्रभु का एतिहासिक मंदिर भी हैं यहा सालो भर सैकड़ों शरणार्थी आते हैं पर पानी की समस्या हमेशा बनी रहती है। पाइप तो बिछाया गया है, पर पानी का आज तक नामो निशान नहीं है। कोलेबिरा पंचायत एवं नवटोली पंचायत के सैकड़ों ग्रामीण जल समस्या से जूझ रहे हैं। योजना का देखरेख का कार्य स्थानीय मुखिया एवं जल सहिया समिति द्वारा किया जाना है।

वहीं कोलेबिरा मुखिया आलोमनी बागे का कहना है कि करोड़ों रुपया से बनी ग्रामीण जलापूर्ति योजना का लाभ ग्रामीणों को नहीं मिलना दुर्भाग्यपूर्ण है। संबंधित विभाग को कई बार सूचित किया जा चुका है। विभाग द्वारा आश्वासन दिया है कि 20 सितंबर तक सारे अधूरे कार्य पूर्ण कर दिया जाएगा। नहीं करने पर स्थानीय मुखिया एवं ग्रामीण द्वारा आंदोलन करने की पूर्ण तैयारी कर रखी है।
पोस्टल पिन कोड 835201 835211 835212 835223 835226 835228