Wednesday, January 16, 2019
Home व्यक्तित्व

व्यक्तित्व

    पानी के अनुपम पुरोधा

     ♦ राजकुमार कुम्भज प्रख्यात गाँधीवादी अनुपम मिश्र सच्चे अर्थों में अनुपम थे। वह पानी मिट्टी पर शोध के अलावा चिपको आन्दोलन में भी सक्रिय रहे...

    वाह रे सरकार: अच्छे भले जिंदा आदमी को कागजों में मार...

    जिन्दा को मुर्दा और मुर्दा को जिन्दा करने के सरकारी कागजों में देर नहीं लगती, अब देश में प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी हो या प्रदेश...

    युवा दिवस विशेष – अमेरिका को दीवाना करने वाले स्वामी विवेकानंद...

    आज स्वामी विवेकानंद की जयंती है. उनकी जिंदगी है हर फलसफा आज सफलता का महामंत्र बन चुका है। वे जो भी कह गए और...

    स्पेशल इंटरव्यू : अजय देवगन, मेरे घर भी रेड पड़ी थी...

    फिल्म रेड से कैसे जुड़ना हुआ ? मुझे फिल्म की कहानी सुनाई गयी थी और रीयल घटनाओ पर आधारित कहानी है , जिसकी वजह से...

    मशहूर एक्टर नरेंद्र झा का निधन

    यह साल कई फ़िल्मी हस्तियों को दुनिया से कूच करा गया। पहले श्रीदेवी गयीं फिर शम्मी का निधन हुआ। अब अचानक से खबर आयी है...

    जिसमें नैतिक साहस नहीं, वह मुक्तिदाता नहीं हो सकता

    गौतम बुद्ध को पता चल चुका था कि उनकी मृत्यु तय हो चुकी है। एक गरीब लोहार के घर जहरीला भोजन खाने से उनके...

    किताब… यानी उफनते खयालों का समंदर

    दुकान किताब की / महज इक दुकान नहीं, जमा है इसमें समंदर / उफनते खयालों का… युवा शायर सतेन्द्र ‘मनम’ का यह शे’र वाणी प्रकाशन...

    आगरा: ताज महोत्सव में सिंगर से अश्लील डिमांड, स्टेज पर ही...

    होली से पहले ही रंग में भंग पड़ने लगा है। मौका था ताज महोत्सव का थाम जहां सिंगर का रंगारंग कार्यक्रम होने वाला था...

    चांद के पार चलीं चांदनी: दिलों में हमेशा कायम रहेगी श्रीदेवी...

    कई दिनों के उतारचढ़ाव भरे सफर और रहस्य से भरी बातों से उबरकर श्रीदेवी का पार्थिव शरीर जब दुबई से निजी विमान में मुम्बई...

    अंबेडकरवादी होने के दावे से पहले खुद की कर लें जाँच

    समय के साथ-साथ भारत रत्न डा. बी. आर. अंबेडकर की प्रासंगिकता और महत्व भारतीय राजनीति एवं सामाजिक चेतना के उत्थान में अहम होते चले...