Saturday, March 23, 2019

गोडसे पर आधारित नाटक में बवाल, बीएचयू की इजाजत पर जांच...

एक नाटक को लेकर काफी बवाल हो रहा है, नाटक भी ऐसा जो सुनने में ही विवादास्पद लगता है। दरअसल काशी हिंदू विश्वविद्यालय( बीएचयू)...

जिंदा रहना चाहता है इंसान (कविता)- बोरीस स्लूत्स्की

जिंदा रहना चाहता है जिंदा इंसान। जिंदा रहना चाहता है मौत तक और उसके बाद भी। मौत को स्थगित रखना चाहता है मरने तक निर्लज्ज हो चाहता...

शोकसभा के विविध आयाम (व्यंग्य) : सुशील सिद्धार्थ

मेरे सामने अजीब संकट आ गया है। इसे धर्मसंकट की तर्ज़ पर शोकसंकट कहना ही उचित है। मुझे किसी न किसी बहाने इस शोक...

सत्य कोयले की खदान में लगी आग है (कविता)- बाबुषा कोहली

मैं कहती हूँ किसी इश्तहार का क्या अर्थ बाकी है कि जब हर कोई चेसबोर्ड पर ही रेंग रहा है आड़ी-टेढ़ी या ढाई घर चालें तो...

नाँव मंत्री के अब रटींला हम (कविता)- बेढब बनारसी

नाँव जेकर बहुत जपींला हम ऊ त गुमनाम हौ सुनींला हम शिव क, दुर्गा क पाठ का होई नाँव मंत्री क अब रटींला हम जब से देखलीं ह...

वसूली करना अपुन से सीखो (व्यंग्य)- अर्चना चतुर्वेदी

हमारे देशवासियों की आदतें और सोच सारी दुनिया से निराली है। जैसे पूरे पर्वत पर संजीवनी बूटी चमकती थी ऐसे हम पूरी दुनिया में...

कूड़ा बीनते बच्चे (कविता)- अनामिका

उन्हें हमेशा जल्दी रहती है उनके पेट में चूहे कूदते हैं और खून में दौड़ती है गिलहरी ! बड़े-बड़े डग भरते चलते हैं वे तो उनका ढीला-ढाला कुर्ता तन जाता...

विलुप्त हो रहे प्राणी (कविता)- आंद्रेइ वोज्नेसेन्स्की

विलुप्त हो रहे सभी प्राणियों का विवरण लिख दिया गया है मेरी श्वेत पुस्तिका में। चिंताजनक हैं ये कुछ लक्षण कि पहले तो वर्ष भर के लिए फिर...

द रॉयल घोस्ट (कहानी)- तरुण भटनागर

'...चल-चल आज तो दिखा ही दे, क्या है उस ट्रंक में। मान जा यार।' पिता बिट्टो बुआ से निवेदन कर रहे थे। बिट्टो बुआ को...

विश्व पुस्तक मेले के विविध रंग

एनबीटी ने आकाशवाणी साहित्य संपदा के तीन खंडों का किया लोकार्पण थीम मंडप में राष्ट्रीय पुस्तक न्यास द्वारा प्रकाशित आकाशवाणी साहित्य संपदा के तीन खंडों...