Print Friendly, PDF & Email

भोपाल (नेशनल डेस्क)।
कांग्रेस पार्टी ने मध्य प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल को पत्र लिखकर मिलने का समय मांगा है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने चुनाव परिणामों और कांग्रेस के लिए सकारात्मक रुझानों के बाद राज्यपाल को लिखे पत्र लिखकर उनसे मिलने का वक्त मांगा है। प्रदेश के विधानसभा चुनावों में कांग्रेस के सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरकर आने की संभावना और विजयी हुए निर्दलीय के समर्थन की बात करते हुए प्रदेश में सरकार बनाने का दावा भी पेश किया है। कमलनाथ ने पत्र में लिखा है कि कांग्रेस पार्टी विधानसभा चुनाव में सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरकर आ रही है। इसके अलावा कांग्रेस को सभी निर्दलियों का भी समर्थन हासिल है। मध्यप्रदेश कांग्रेस ने देर रात चुनाव परिणाम को लेकर एक प्रेस कांफ्रेंस की। कमलनाथ ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि हम एमपी में पूर्ण बहुमत के साथ अपनी सरकार बनाने जा रहे हैं। हमारी जीत के साथ ही एमपी की विकास यात्रा का नया इतिहास शुरू होने वाला है।

मीडिया से बात करते हुए कांग्रेस पार्टी के नेता एवं सांसद विवेक तन्खा ने कहा है कि राज्यपाल को संवैधानिक तौर पर सिंगल लार्जेस्ट पार्टी होने के कारण कांग्रेस को बुलाना चाहिए। वहीं, यह बात भी चर्चा में है कि जब तक चुनाव आयोग सभी सीटों के परिणामों की आधिकारिक घोषणा नहीं कर देता, तब तक संभवतः राजभवन से किसी भी पार्टी को मिलने के लिए बुलावा नहीं आ पायेगा।