(फाइल फोटो)
Print Friendly, PDF & Email

 

वाशिंगटन : राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प शुक्रवार को चीन से पचास अरब डॉलर के आयातित माल पर 25 प्रतिशत सीमा शुल्क बढ़ाए जाने की घोषणा करेंगे। इसके लिए चीनी उत्पादों की सूची तैयार कर ली गई है। प्रशासन ने 1300 चीनी उत्पादों की सूची बनाई है।
ट्रम्प प्रशासन के इस फ़ैसले का एक कारण घरेलू उद्योग को संरक्षण देना भी है। चीनी माल पर अतिरिक्त कर लगने से व्यापारियों को माल की बढ़ी हुई क़ीमत ग्राहकों से लेनी होगी लेकिन माल की क़ीमतें बढ़ने से ग्राहक स्वदेशी माल की ओर जाएंगे। अमेरिका प्रतिवर्ष चीन से 505 अरब डॉलर का आयात करता है। इस निर्णय से दोनों देशों के बीच व्यापारिक जंग शुरू होने की आशंका है।

यह निर्णय अमेरिका फ़र्स्ट नीति के तहत लिया जा रहा है। इसका दूसरा कारण चीन की एक तकनीक कम्पनी पर अमेरिका के साथ हुई लाइसेंसिंग नीति समझौते की अवहेलना करना और ख़ुफ़िया डाटा से छेड़छाड़ किए जाने का भी आरोप है। ट्रम्प प्रशासन ने चीनी माल के आयात से साठ हज़ार अमेरिकी कम्पनियों और छह लाख अमेरिकी रोज़गार ख़त्म होने की आशंका जताई है। चीनी व्यापार से अमेरिका को प्रति वर्ष 375 अरब डॉलर का नुक़सान हो रहा है।