Print Friendly, PDF & Email

Related image

ऑस्ट्रेलिया के टेनिस खिलाड़ी निक लिंडल पर 10जनवरी को मैच फिक्सिंग के आरोपों में सात साल का प्रतिबंध लगाया गया और 35000 अमेरिकी डालर का जुर्माना भी किया गया| दो अन्य खिलाड़ियों को भी मैच फिक्सिंग के मामले में सजा दी गई|

करियर में सर्वश्रेष्ठ 187वीं रैंकिंग हासिल करने वाले लिंडल को प्रतियोगिता के नतीजे को प्रभावित करने या प्रभावित करने का प्रयास करने और टेनिस इंटिग्रिटी यूनिट (टीआईयू) के साथ जांच में सहयोग में विफल रहने का दोषी पाया गया|

भाषा की खबर के मुताबिक, उन पर 2013 में आस्ट्रेलिया में एक फ्यूचर्स टूर्नामेंट का मैच जानबूझकर हारने की पेशकश करने और टीआईयू के आग्रह पर अपना मोबाइल जांच के लिए देने से इनकार करने के लिए लगे थे| इसी घटना के लिए पिछले साल ऑस्ट्रेलियाई अदालत ने लिंडल पर एक हजार ऑस्ट्रेलियाई डालर का जुर्माना लगाया था|

इसी टूर्नामेंट में भ्रष्टाचार का दोषी पाये जाने पर ब्रेंडन वाल्किन पर छह महीने का निलंबन लगाया गया| उनकी सजा छह महीने के लिए निलंबित है जिससे वह खेलने के लिए स्वतंत्र हैं| इसाक फ्रास्ट को अपना फोन जांच के लिए नहीं देने का दोषी पाया गया| वह पहले ही एक महीने का निलंबन झेल चुके हैं इसलिए उन्हें आगे कोई सजा नहीं दी गई|