Print Friendly, PDF & Email

रामगढ़, झारखंड
सीपीआई सह एटक से जुड़े मजदूर नेता बालेश्वर महतो की हत्याकांड मामले में एक बड़ा खुलासा हुआ है। इस मामले में वेस्ट बोकारो पुलिस ने चार लोगों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए अपराधियों में नामजद अभियुक्त लईयो निवासी अशोक महतो, रैयत विस्थापित मोर्चा के अध्यक्ष सह घटना का साजिशकर्ता मो. साजिद अंसारी उर्फ गुलाम, सूचनाकर्ता रेवालाल महतो और नागेश्वर महतो शामिल हैं।

इन सभी को धारा 120 बी के तहत सोमवार को जेल भेज दिया गया। वहीं हत्या का मुख्य अभियुक्त नक्सली संगठन पीएलएफवाई का कमांडर बाजीराम महतो उर्फ बाजीराव और एक अन्य नक्सली फरार हैं। पुलिस के मुताबिक लोकल सेल में रैयत विस्थापित संघर्ष मोर्चा के नाम पर भागीदारी नहीं मिलने के कारण इस हत्याकांड को अंजाम दिया गया है।

गौरतलब है कि 15 अक्टूबर की रात को सीपीआई नेता की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। वह वेस्ट बोकारो घाटो थाना क्षेत्र के लइयों स्थित अपने घर के समीप ही दुर्गा मंडप से पैदल अपने घर वापस लौट रहे थे, उसी दौरान अपराधियों ने उन पर पीछे से दो गोली मार कर फरार हो गए थे।