Print Friendly, PDF & Email

रांची, झारखंड
जॉर्डन में हुई सड़क हादसे में गिरिडीह के बगोदर थाना के माहुरी गांव निवासी प्रवासी मजदूर 45 वर्षीय नसरुद्दीन अंसारी की मौत हो गई। घटना में गिरिडीह और हजारीबाग जिले के ही 13 मजदूर घायल हो गए, जिनमें तीन की स्थिति गंभीर है। दुर्घटना में मौके पर ही नसरुद्दीन अंसारी की मौत हो गयी।

घायलों में ज्यादातर बगोदर, विष्णुगढ़, गोमिया और डुमरी प्रखण्ड अंतर्गत प्रवासी मजदूर शामिल हैं। सभी घायलों को जॉर्डन के अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। सोशल मीडिया में यह घटना वायरल हुआ है। कंपनी ने नसरुद्दीन की पत्नी को घटना की जानकारी दी।

स्थानीय मुखिया संतोष रजक और माहुरी के सदर इलियास अंसारी ने भी घटना की पुष्टि की। प्राप्त जानकारी के अनुसार जॉर्डन में ये सभी मजदूर टावर लाइन का काम करते थे। शनिवार को सभी केईसी नामक कंपनी की बस में सवार होकर काम करने जा रहे थे, इसी दौरान रस्ते में बस दुर्घटनाग्रस्त हो गई। इधर इस खबर की सूचना मिलते ही मृतक के गांव में मातम छा गया है।

मृतक मजदूर के परिजनों ने बताया कि नसरुद्दीन बीते 14 जून को बतौर मजदूर काम करने जॉर्डन पहुंचा था। घर में पत्नी, 1 पुत्र, 3 पुत्री और एक दिव्यांग भाई के परवरिश की जिम्मेदारी नसरुद्दीन अंसारी के कंधों पर ही थी।

इस सड़क दुर्घटना में घायल हुए मजदूरों में महेंद्र महतो, मनोज कुमार(भेलवारा), रामेश्वर महतो(डुमरी), गोपाल कुमार महतो(कुलगो, डुमरी), हेमलाल महतो(गोमिया), कोलेश्वर महतो(बगोदर), रूपलाल महतो(विष्णुगढ़), रामचंद्र महतो(बगोदर), बिनोद कुमार महतो(गोमिया), रंजित महतो(विष्णुगढ़), महेंद्र महतो(बेको, बगोदर), जीतेन्द्र महतो(निमियांघाट), मनोज कुमार(विष्णुगढ़) के नाम शामिल हैं।