Print Friendly, PDF & Email

गुजरात में चुनाव प्रचार जोरो पर है। कांग्रेस बनाम भाजपा का माहल बन चुके इन चुनाओं में विवाद भी कम नहीं पैदा हो रहे हैं। अभी भाजपा और कांग्रेस दोनों ने अपने पाने कैंडीडेट की लिस्ट जारी कर दी है। क्लिस्ट में कई नई बातें ध्यान खींच रही हैं। मसलन भाजपा ने जहाँ पूर्वा मुख्यमंत्री आनंदी बेन को ताकत नहीं दिया है वहीँ कांग्रेस की लिस्ट में टिकट बंटवारे को लेकर हंगामा मच हुआ है। भारतीय जनता पार्टी ने अपने उम्मीदवारों की छठी और अंतिम लिस्ट जारी कर दी। इसमें 34 सीटों पर उम्मीदवारों के नाम की घोषणा की गई है। इसके साथ ही बीजेपी ने राज्य के सभी 182 सीटों पर अपने उम्मीदवारों की घोषणा कर दी है। पार्टी ने सभी अटकलों पर विराम लगाते हुए पूर्व मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल को टिकट नहीं दिया है। पार्टी ने आनंदीबेन की करीबी भूपेंद्र पटेल को घाटलोडिया से टिकट दिया है।
बीजेपी ने गांधीनगर दक्षिण से शंभुजी चेलाजी ठाकोर, गांधीनगर उत्तर से अशोकभाई पटेल, बापुनगर से जगरुपसिंह राजपूत, मणिनगर से सुरेशभाई पटेल, बोरसद से रमणभाई भीखाभाई सोलंकी और आणंद से योगेशभाई पटेल को टिकट दिया है। छठी सूची में 12 पटेलों और दो ब्राह्मणों को टिकट दिया गया है। पूर्व मंत्री रजनी पटेल को बेचारजी से दोबारा टिकट दिया गया है। बता दें कि बीती रात आनंदीबेन के समर्थकों द्वारा टिकट देने को लेकर काफी ड्रामा हुआ था। इस विरोध को शांत कराने के लिए बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को जाना पड़ा था। पार्टी अब अपने सभी 182 सीटों के लिए नामों की घोषणा कर चुकी है। इसमें 12 एससी, 28 एसटी, 52 पाटीदार और 61 ओबीसी प्रत्याशी शामिल हैं। इस बार अमित शाह चुनाव नहीं लड़ रहे हैं।
वहीँ बात कांग्रेस के एकारें तो 22 साल के लंबे इंतजार के बाद गुजरात के महासमर को जीतने के कांग्रेस पार्टी ने अपने उम्मीदवारों की तीसरी लिस्ट जारी कर दी। इस लिस्ट में भी कांग्रेस पार्टी ने अपने वफादार विधायकों को प्राथमिकता दी है। इसमें कुल 76 सीटों पर उम्मीदवारों का ऐलान किया गया है। उधर, कांग्रेस की लिस्ट जारी होने के बाद टिकट नहीं पाने वाले लोगों के समर्थकों ने बनासकांठा और राज्य के अन्य जिलों में जमकर प्रदर्शन किया। ये लोग वेजलापुर, दीसा, राधनपुर, अकोटा, वघोडिया आदि विधानसभा सीटों पर टिकट बांटे जाने विरोध कर रहे थे। कांग्रेस की तीसरी लिस्ट में जिन लोगों को टिकट दिया गया है, उनमें छोटा उदयपुर से मोहन सिंह रथवा, बोरसाड से राजेंद्र परमार, झलोद से मितेश गरासिया, दाहेगाम से कामिनी बा राथोड, धनेरा से जोइता पटेल प्रमुख हैं।