Print Friendly, PDF & Email

हाथरस की हसायन कोतवाली क्षेत्र के गांव सराय में आठ दिन पूर्व गुम हुई महिला का जंगलों में शव मिलने गांव में हड़कंप मच गया।

महिला की हत्या कर शव जंगल में मिलने की सूचना पर गांव पहुंचे महिला के परिजानों ने महिला के पति पर हत्या का आरोप लगाते हुये मामला दर्ज करने की मांग की है।

महिला के परिजनों का आरोप है कि उनकी बेटी के 9 साल से बच्चा नहीं हुआ जिसके लिये लड़के ने उनकी बेटी की हत्या कर शव जंगलों में फेंक दिया।

देश चाहे कितना भी अधुनिक क्यों न हो जाये पर बिन जुर्म किये किश्मत की सजा सभी को भुगतनी ही पड़ती है।

ऐसा ही मामला हाथरस की हसायन कोतवाली क्षेत्र में देखने को मिला है, हसायन कोतवाली के गांव सराय में आठ दिन पूर्व गायब एक महिला का शव इसी थाना क्षेत्र के गांव कटाई के जंगलों में मिला है।

महिला के पिता हुकुम सिंह का कहना है कि उन्होने अपनी पुत्री स्नेहलता की शादी 9 वर्ष पूव सराय गांव के मनोल कुमार से की थी।

शादी के कुछ समय बाद ही मनोज और उसके परिजनों द्वारा स्नेहलता को मारपीट कर परेशान किया जाने लगा, मनोज के परिजनों ने उसके बच्चा न होने पर छोड़ने और मारने की धमकी देते रहे। अब उन्होने उसकी हत्या कर शव जंगल में फेंंक दिया।

उन्होने कोतवाली का घेराव कर मनोज के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर कार्यवाही की मांग की है।

मृतक स्नेहलता के भाई ने मृतका के पति पर आरोल लगाते हुये बताया कि वो उसकी बहन के 9 साल से बच्चा न होने के कारण दूसरी शादी करना चाहता था जिसके लिये उसने पहले स्नेहलता पर अवेध संबन्ध बनाने का आरोप लगाया।

फिर उसकी हत्या कर शव जंगलों ने में डाल दिया और कोतवाली में उसके गुमशुदा होने का मामला दर्ज करा दिया था।

हमने कोतवाली में शिकायत कर मनोज कुमार को सजा देने की मांग की है।