Print Friendly, PDF & Email

दिल्ली
बीएसएफ के जवान नरेंद्र शर्मा की पिछले दिनों भारत-पाकिस्तान सीमा पर पाकिस्तानी सैनिकों द्वारा की गई बर्बर हत्या का बदला भारतीय सैनिकों ने ले लिया है। इस बात की पुष्टि गृह मंत्री राजनाथ सिंह औऱ बीएसएफ प्रमुख ने भी कर दी है। बीएसएफ प्रमुख केके शर्मा ने बताया कि दो दिन पहले ही नियंत्रण रेखा पर बीएसएफ ने पाकिस्तानी सेना के खिलाफ भीषण जवाबी कार्रवाई की। जिसमें पुख्ता तौर पर 11 पाकिस्तानी जवानों को मार गिराया गया जबकि बीएसएफ के मुताबिक इनकी संख्या ज्यादा भी हो सकती है।

भारतीय सैनिकों के ताबड़तोड़ हमले से घबराए पाक रेंजर्स ने सीमा पार के 5 किलोमीटर के एरिया में लोगों से घर खाली करवा लिए हैं औऱ खुद भी नियंत्रण रेखा से कई किलोमीटर की दूरी पर तैनात हो गए हैं। बीएसएफ प्रमुख ने कहा कि आने वाले दिनों में हम औऱ भी भीषण कार्रवाई करेंगे।

खास बात ये है कि बीएसएफ प्रमुख के इस बयान का समर्थन गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने भी किया है। राजनाथ ने साफ कहा कि मेरे सीधे आदेश हैं कि अगर पाकिस्तान की तरफ से कोई भी हरकत होती है तो बंदूक की गोलियां गिनने की कोई जरूरत नहीं है।

भारतीय सैनिक के साथ बर्बरतापूर्ण कृत्य करने के बाद पाकिस्तानी सैनिकों को इस बात का अंदाजा था कि भारतीय सेना कोई बड़ी कार्रवाई करेगी तभी उन्होंने नियंत्रण रेखा के आसपास के इलाके खाली कराना शुरु कर दिए थे लेकिन भारतीय सेना ने पाकिस्तान को उसकी हरकत का कड़ा जवाब देकर साफ कर दिया है कि 1 भारतीय सैनिक की जान के बदले 11 जवानों की जान उसे गवांनी पड़ेगी।