तस्वीर : हिंद वॉच
Print Friendly, PDF & Email

ग्रासरूट रिपोर्टर देवदर्शन बड़ाईक की रिपोर्ट
सिमडेगा, झारखंड
जिले के कोलेबीरा प्रखंड के प्रसिद्ध बाघचण्डी मन्दिर परिसर के आस पास के जगहों पर चारों तरफ स्वच्छता अभियान स्थानीय युवकों द्वारा चलाया गया। वहीं बाहर से आये हुये सभी श्रद्धालुओं को भी अपने आस पास सफाई रखने और पर्यावरण को प्रदूषित नहीं करने की सलाह दी गई।

ऐसी मान्यता है कि बाघचण्डी मन्दिर में सच्चे दिल से कोई भी मन्नत यहां मांगने आता है उसकी मनोकामना पूर्ण होती है। यही वजह है कि आए दिन झारखंड, छत्तीसगढ़, उड़ीसा, बिहार के श्रद्धालु माता के मंदिर आते हैं और मन्नत पूरी होने पर श्रद्धालु बकरे की बलि देते हैं। यहीं पर बकरे का मांस के साथ साथ भोजन करने की रिवाज के कारण खाना बना कर ग्रहण करते हैं, पर मन्दिर परिसर में अगल बगल जगहों पर बहुत गन्दगी छोड़ जाते है।

काफी मात्रा में डिस्पोजल का उपयोग किया जाता है जिससे जन जीवन ओर अगल बगल के किसानों की खेती प्रभावित होती है। स्वच्छता को देखते हुए स्थानीय लोगों ने समिति भी गठित किया है। समिति द्वारा कूड़ेदान का निर्माण किया गया है। समिति के निर्देश अनुसार गन्दगी फैलाने वालो को जुर्माना भी 500 रुपये तय कर रखे हैं, पर मन्दिर परिसर के आस पास गन्दगी लोग कर ही देते हैं।

स्वच्छता अभियान में शामिल युवकों ने संकल्प लिया कि सप्ताह में एक दिन मन्दिर परिसर में आकर स्वच्छता अभियान चलायेंगे। स्वच्छता अभियान में मुख्य रूप से विवेकानंद पंडा, बादल नायक, मोनू पंडा, प्रदीप साहू एवं छोटू साहू के अलावे कई लोग शामिल थे।
पोस्टल पिन कोड 835201 835211 835212 835223 835226 835228