बंद के दौरान सुनसान पड़ा कोलेबीरा स्थित रणबहादुर सिंह चौक (तस्वीर : हिंद वॉच)
Print Friendly, PDF & Email

ग्रास रूट रिपोर्टर देवदर्शन बड़ाईक की रिपोर्ट
सिमडेगा, झारखंड
जिले में माओवादियों के द्वारा आहूत दो दिवसीय झारखंड-बिहार बंद का पहला दिन आज व्यापक असर देखा गया। माओवादी बंदी के पहले दिन आज सिमडेगा जिले के सभी प्रखंडों के भीड़ भाड़ वाले क्षेत्रों के अलावे ग्रामीण क्षेत्रों में भी सुबह से ही सभी निजी प्रतिष्ठान स्वतः बंद रहे। माओवादी बंद को लेकर एन. एच. 143 पर लोकल एवं लंबी दूरी की यात्री वाहनों का आवागमन पूरी तरह से बाधित रहा। वहीं एन.एच.143 पर भारी एवं छोटे छोटे मालवाहक वाहनों का आवागमन कमोबेश दिन भर जारी रहा।

कोई शहरी क्षेत्र से हो कर ग्रामीण क्षेत्रों की ओर जाने वाली छोटी गाड़ियां, ऑटो आदि यात्री वाहन भी नहीं चले। बंद का प्रभाव आज सरकारी कार्यालयों में भी देखा गया बैंक पोस्ट ऑफिस, पेट्रोल पंप, कई निजी विद्यालय, दुकान नहीं खुले तो दूसरी ओर ग्रामीण क्षेत्रों से वाहनों के नहीं आने के कारण सरकारी कार्यालयों में भी विभिन्न कामों के लिए आने वाले ग्रामीणों की संख्या काफी कम देखी गई।

बंदी के मद्देनजर जिले के सभी उग्रवाद प्रभावित क्षेत्रों में विशेषकर केरया घाटी, कोलेबिरा घाटी आदि घाटियों के अलावा शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में भी चौक-चौराहे पर पुलिस बल को तैनात किया गया था। बन्दी को लेकर पुलिस द्वारा सभी प्रमुख रास्तों पर गस्ती को बढ़ा दिया गया था। समाचार लिखे जाने तक बंद के दौरान जिले भर में कहीं से कोई अप्रिय घटना की सूचना नहीं मिली थी।
पोस्टल कोड 825223 835201 835226 835211 835220