Print Friendly, PDF & Email

नई दिल्ली
केंद्रीय विदेश राज्यमंत्री एमजे अकबर पर लगे यौन शोषण के आरोपों के बाद से ही उनपर कार्रवाई की मांग उठ रही है। इस पर बीजेपी के अध्यक्ष अमित शाह ने कहा है कि एमजे अकबर के खिलाफ लगाए गए यौन शोषण के आरोपों की जांच होगी। इसके साथ ही अमित शाह ने कहा है, ‘देखना पड़ेगा कि यह सच है या गलत। हमें उस शख्स के पोस्ट की सत्यता जांचनी होगी, जिसने आरोप लगाए हैं। खुद भाजपा की महिला मंत्रियों ने भी अकबर के खिलाफ मोर्चा खोला और कहा कि पीड़िताओं को न्याय मिलना चाहिए।

बीजेपी अध्यक्ष शाह ने कहा कि आप मेरा नाम भी इस्तेमाल करते हुए कुछ भी लिख सकते हैं। इसलिए पोस्ट की सत्यता की जांच होनी चाहिए’। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो यौन शोषण के आरोपों से घिरे एमजे अकबर से मोदी सरकार इस्तीफा ले मांग सकती है।

हालांकि एमजे अकबर पर पहली बार बीजेपी के आलाकमान की प्रतिक्रिया सामने आई है।’ बता दें अपने समय के मशहूर संपादक और वर्तमान में केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री एमजे अकबर पर छह महिलाओं ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है।

केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने शुक्रवार को कहा कि जिन महिलाओं ने आगे आ कर यौन उत्पीड़न के आरोप लगाये है, मुझे उन सब पर भरोसा है। मेनका ने कहा कि मी टू अभियान के तहत सामने आये मामलों की पड़ताल के लिए उनका मंत्रालय जल्द ही एक कमेटी गठित करेगा। इसमें वरिष्ठ न्यायिक और कानूनी अधिकारी सदस्य होंगे।