पाकिस्तान: अभिनेता अली जफ़र पर पाक सिंगर ने लगाया यौन शोषण का आरोप

Print Friendly, PDF & Email

अभिनेता अली जफ़र जो भारत और पाकिस्तान की कई फिल्मों में काम कर चुके हैं, पर पाकिस्तान की मशहूर गायिका, अभिनेत्री और मॉडल मीशा शफ़ी ने कलाकार और गायक अली ज़फ़र पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है। जबकि वही अली ज़फ़र ने इन सारे आरोपों को निराधार बताया है और इस मामले को कोर्ट में ले जाने को कहा है। अली ज़फ़र चश्मे बद्दूर,डियर ज़िंदगी जैसी कई बॉलीवुड फिल्मों में भी काम कर चुके हैं।

मीशा ने ट्वीट करके ज़फर पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है। क़रीब चार घंटे पहले हैशटैग #MeToo के साथ पोस्ट किया गया ये ट्वीट कुछ ही वक़्त में देखते-देखते वायरल हो गया। इस ट्वीट पर कुछ ही वक़्त में हज़ारों कॉमेंट्स भी आ गए।

मीशा शफ़ी लिखती हैं कि ‘मैं ये सब कुछ इसलिए शेयर कर रही हूं क्योंकि मुझे लगता है कि मैं वही लिख रही हूं जो मेरे साथ हुआ है। मैं समाज में चल रही चुप्पी की परंपरा को तोड़ना चाहती हूं।’

”हालांकि ऐसा करना आसान नहीं है लेकिन यौन उत्पीड़न पर चुप्पी साधे रखना उससे कहीं ज़्यादा मुश्किल है। मेरी अंतरात्मा मुझे चुप रहने की गवाही नहीं देती है।”

वो आगे लिखती हैं ”मेरे माता-पिता मेरे साथ हैं। अली जफ़र ने ऐसा पहली बार नहीं किया है। ये तब नहीं हुआ जब मैं इंडस्ट्री में नई-नई थी। ये मेरे साथ उस वक़्त हुआ जब मैं अपने पैरों पर खड़ी हो चुकी थी। जब मेरी पहचान एक ऐसी औरत के रूप में बन चुकी थी जो अपने दिमाग़ से चलती है। ये हरक़त दो बच्चों की मां के साथ हुई है।”

गौरतलब है कि  मीशा ने ट्वीट में लिखा है कि ‘इस घटना से उनके साथ-साथ उनका पूरी परिवार भी सदमे में है। मैं अली को पिछले काफी सालों से जानती हूं। मैंने उनके साथ काम किया है। उनके इस व्यवहार से मैं आहत हूं, लेकिन ये भी सच है कि ऐसे अकेले मेरे साथ नहीं हुआ है।

”आज मैं ये उम्मीद करती हूं कि मेरी ये चुप्पी तोड़ना दूसरों के लिए भी मिसाल होगा। उन्हें ये लगेगा कि वो अपनी बात रख सकते हैं। हमें बोलने का अधिकार है और हम उसका इस्तेमाल करेंगे।”

बता दें कि मीशा पाकिस्तान में एक जाना-माना नाम हैं, वहीं अली ज़फ़र भी कोक स्टूडियो समेत कई बड़े ब्रैंड से जुड़े रहे हैं। वहीं अली ज़फ़र ने इन आरोपों को ग़लत कहा है।

ट्विटर पर उन्होंने लिखा हैं ”मैं #MeToo मूवमेंट की गंभीरता से पूरी तरह वाकिफ़ हूं और इसका समर्थन भी करता हूं। मैं एक जवान बेटी और बेटे का पिता हूं। एक औरत का पति हूं और एक मां का बेटा। मैं एक ऐसा शख़्स हूं जो अपने लिए, अपने परिवार के लिए, अपने सहकर्मियों के लिए और दोस्तों के लिए अनेकों बार खड़ा हुआ है। मैं आज भी यही कर रहा हूं। मैंने ऐसा कुछ भी नहीं किया है जिसे छिपाने की ज़रूरत पड़े। चुप रहन वाकई विकल्प नहीं है।”

मैं मीशा शफ़ी द्वारा लगाए गए हर आरोप का खंडन करता हूं। मैं यहां उन पर किसी भी तरह का आरोप लगाने से बेहतर इस मामले को प्रैक्टिकल तरीक़े से निपटाने पर यक़ीन करता हूं। ”

ज़फ़र ने ट्वीट में लिखा है कि ‘मैं इस मामले में कानूनी तरीक़े से आगे बढ़ना चाहता हूं न कि यहां या फिर सोशल मीडिया पर किसी तरह का आरोप लगाकर। यह गंभीर मामला है और मैं इससे पेशेवर तरीक़े से ही लूंगा।’

अब अच् क्या है इसका पता जल्द ही लग जायेगा।





loading...