आतंकियों ने औरंगजेब के बाद कांस्टेबल जावेद को अगवा कर मार डाला, शोपियां में मिला शव

Print Friendly, PDF & Email

जम्मू-कश्मीर
क्षिण कश्मीर के शोपियां में जम्मू-कश्मीर पुलिस के जिस कांस्टेबल को गुरुवार को अगवा किया गया था उसकी आतंकियों ने हत्या कर दी है। शुक्रवार सुबह जावेद डार का शव कुलगाम के परिवान इलाके से मिला। जावेद शोपियां के पूर्व एसएसपी शैलेन्द्र मिश्रा की सुरक्षा में तैनात थे। इससे पहले आतंकियों ने कुछ दिन पहले सेना के जवान औरंगजेब का अपहरण कर उसकी भी हत्या कर दी थी।

पुलिस ने बताया कि डार का शव कुलगाम के परिवान गांव से बरामद हुआ है। इस बीच पुलवामा जिले में आतंकवादियों ने मुहम्मद अशरफ नाम के मौलवी पर गोलीबारी की। उनकी हालत गंभीर बनी हुई है। न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक जावेद को आंतकियों ने शोपियां के मेडिकल शॉप से अगवा किया था।

वहीं कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के अनुासर इस मामले पर बात करते हुए एक पुलिस अधिकारी ने बताया था कि कांस्टेबल जावेद अहमद को कुछ अज्ञात बंदूकधारियों ने वेहिल स्थित उसके घर से अगवा किया था। जावेद को आतंकियों के चुंगल से छुड़ने के लिए जम्मू-कश्मीर पुलिस ने अभियान शुरू किया था। साथ ही सुरक्षा बलों को अलर्ट कर दिया गया था।

इससे पहले पिछले महीने की 14 तारीख को आंतकियों ने जम्मू-कश्मीर के पुलमावा से भारतीय सेना के 44 राष्ट्रीय रायफल के जवान औरंगजेब का अपहरण किया था। फिर उसकी हत्या कर दी थी। आंतकियों ने औरंगजेब को किडनैप किया, जब ईद की छुट्टी ले अपने घर जा रहे थे। आंतकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने औरंगजेब के आखिरी पलों का वीडियो भी जारी किया था।





loading...