Print Friendly, PDF & Email

जम्मू कश्मीर
श्रीनगर के शोपियां से अगवा 4 पुलिसकर्मियों में से 3 की आतंकियों ने निर्मम हत्या कर दी गई है। आतंकवादियों ने 4 लोगों को अगवा किया था। एक शख्स पुलिस कर्मी के भाई को आतंकियों ने छोड़ दिया। ज्ञात हो कि हाल ही में प्रतिबंधित आतंकी संगठन हिज्बुल मुजाहिदीन की ओर धमकी भरा विडियो जारी किया गया था। जिसमें पुलिस, सैन्य सेवा के कर्मचारी-अधिकारियों को जान से मारने की धमकी दी गई थी। जिन पुलिस कर्मियों की हत्या की गई है वे विशेष पुलिस अधिकारी हैं।

बता दें कि जम्मू-कश्मीर में पंचायत चुनाव होने से पहले आतंकी इन्हें टालने के लिए पुरजोर कोशिश कर रहे हैं। चारों पुलिसकर्मियों की किडनैपिंग तब हुई है जब हिज्बुल के आतंकी रियाज़ नाइकू ने पुलिसकर्मियों को धमकी दी थी। आतंकी नाइकू विडियो क्लिप में कह रहा था कि सभी पुलिसकर्मियों को चार दिन में अपनी नौकरी छोड़नी होगी। नहीं तो जान देनी होगी। नाइकू का कहना था कि नए कश्मीरी लड़के पुलिस ज्वाइन ना करें।

जम्मू-कश्मीर पुलिस ने पुलिसकर्मी कुलदीपसिंह, फिरदोस अहमद, निसार अहमद के शव बरामद किए हैं। आपको बता दें कि इससे पहले भी कई बार आतंकियों ने पुलिसकर्मियों को किडनैप कर उनकी निर्मम तरीके से हत्या कर दी थी, जिसके बाद से ही घाटी में काफी बवाल है।

अभी पिछले महीने ही आतंकियों ने पुलिसकर्मियों के 10 परिजनों को किडनैप कर लिया गया था, हालांकि बाद में उन्हें छोड़ दिया था। आतंकियों का कहना था कि पुलिसकर्मी उनके परिवार के कुछ सदस्यों को ले गए हैं और हम चाहते हैं कि उन्हें वापस भेज दें।

गुरुवार को जम्मू-कश्मीर के बांदीपोरा में सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ हुई थी। ये मुठभेड़ बांदीपोरा के सुमलार इलाके में चली मुठभेड़ में एक आतंकी को मार गिराया गया था।