Print Friendly, PDF & Email

जब से देश में इस्राइल के प्रधानमंत्री आये हैं मोदी भले ही उनके स्वागत में मशरूफ हों लेकिन जनता तो विरोध प्रदर्शन ही कर रही है। देश भर में उनकी वापसी को लेकर प्रदर्शन किए जा रहे हैं। कहीं पोस्टर जलाये जा रहे हैं तो कहीं धरना हो रहा है।

मुंबई की रजा अकादमी के सदस्यों ने आज बाइकुला स्थित अपने दफ्तर के बाहर इस्राइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के खिलाफ धरना दिया और उनके खिलाफ नारेबाजी की।

बैनरों पर ‘नेतन्याहू वापस जाओ’ लिखे हुए थे। बरेलवी सुन्नी मुस्लिमों की नुमाइंदगी करने वाले इस संगठन का आरोप है कि नेतन्याहू की मुंबई यात्रा ‘‘प्रचार का हथकंडा’’ है।

इसी तरह कोलकाता में भी उनका जमकर विरोध हो रहा है। गौरतलब है कि कोलकाता में सड़कों पर उतरे मुस्लिम संगठन, मोदी-नेतन्याहू के खिलाफ नारेबाजी, जलाए पोस्टर भी।

मुस्लिम समूहों ने इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू की भारत यात्रा का विरोध किया। प्रदर्शनकारियों ने शहर के गांधी मैदान में विरोध प्रदर्शन के बीच अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और नेतन्याहू के पोस्टरों पर पहले स्याही छिड़की और फिर आग लगा दी।

अखिल बंगाल अल्पसंख्यक युवा संघ के महासचिव मोहम्मद कमरुज्जामां ने कहा – ”फिलिस्तीन में मुस्लिमों पर हमले हो रहे हैं, उनकी भूमि और संपत्ति पर अतिक्रमण किया जा रहा है, यह बहुत दुख की बात है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुले दिल से नेतन्याहू का स्वागत कर रहे हैं।

बता दें कि, समाजवादी पार्टी ने भी दक्षिण मुंबई में ऐसा ही विरोध प्रदर्शन किया। कुल मिलाकर लगभग पूरे देश में इस तरह के प्रदर्शन देखने को मिल रहे हैं।