Print Friendly, PDF & Email

राजस्थान में सबसे ज्यादा मशहूर डिश है दाल बाटी चूरमा।  अगर अब तक आपने इसका स्वाद न चखा हो तो आइए जानते है इसे कैसे बनाया जाता है ।

जरूरी सामग्री-

गेहूं का आटा- 300 ग्राम

सूजी- 90 ग्राम

बेसन- 50 ग्राम

देसी घी- 80 ग्राम (आटा में डालकर गूंथने के लिये)

देसी घी- 100 ग्राम (तैयार बाटी को डुबाने के लिये)

काली मिर्च- ¾ चम्मच

बडी़ इलायची – 1

साबुत धनिया- 1 चम्मच

सौंफ- 1 चम्मच

जीरा- ½ चम्मच

अजवायन- ½ चम्मच

बेकिंग सोडा- ¼ चम्मच से कम

हींग – 1 पिंच

लाल मिर्च पाउडर- ¼ चम्मच

क्या है विधि-

मसाला बाटी बनाने के लिए आप सबसे पहले सारे खड़े मसालों को मिक्सी में डालकर दरदरा पीस लें। साबुत धनिया, सौंफ, जीरा, बडी़ इलायची के दाने, काली मिर्च ये सारे खड़े मसाले आप एक साथ मिक्सी में डालकर पीस सकते हैं।

अब एक बाउल लें और इसमें आटा, सूजी, बेसन, दरदरे पीसे हुए मसाले, अजवायन, लाल मिर्च पाउडर, हींग, नमक और बेकिंग सोडा डालकर पहले इसे हाथों से अच्छी तरह से मिक्स कर लें।  अब इस मिश्रण में आप देसी घी डालकर इसे मिश्रण में मिला लें

इस मिश्रण में थोड़ा-थोड़ा पानी डाल कर परांठे के आटे की तरह इस मिश्रण का नरम आटा गूंथ लें। ध्यान रखें की आटा गंदते समय पानी धीरे-धीरे डालें नहीं तो आटा पतला हो जाएगा. अब गूंदे हुए आटे को ढककर 20 मिनिट के लिए रख दे ऐसा करने से आटा फूल कर सेट हो जाता है।

20 मिनट बाद हाथ पर थोडा़ सा घी लगाकर आटे को मसल कर चिकना कर लें। बाटी बनाने के लिए आटा तैयार है। आटे की छोटी-छोटी लोइयां तोड़कर एक प्लेट में रख लें।

बाटी बनाने के लिए आप एक बेकिंग ट्रे लें और इस पर घी लगाकर इसे चिकना कर लें। एक लोई हाथ में उठाकर उसे हाथों से गोल कर लें, गोल बाटी को बेकिंग ट्रे में लगाइये, इसी तरह एक-एक करके सारी लोइयों से गोले बनाकर, तैयार करके, थोडी़-थोड़ी दूरी पर लगा दें।

ओवन को 220 डि.से. पर प्रीहीट कर लीजिये. बाटी की ट्रे को ओवन की मिडिल रैक पर रखिये और ओवन को 220 डि. से. पर 10 मिनिट के लिये सैट कर दीजिये। 10 मिनिट बाद बाटी को ओवन से बाहर निकालिये और चैक कीजिये, बाटी थोड़ी हल्की ब्राउन है, बाटी को 200 डि.से. पर 5 मिनिट के लिये ओवन में रखकर निकाल कर चैक कीजिये, बाटी अभी भी हल्की ब्राउन है, बाटियों को 5 मिनिट और बेक कीजिये, बाटी अच्छी गोल्डन ब्राउन हो गई हैं, बाटी को बेक होने में 20 मिनिट लग गये हैं।  बाटी बनकर तैयार हैं।

गरम गरम बाटी को एक-एक करके घी में डिप करके निकाल कर रखे बाटी सर्व करने के लिए अब तैयार हो चुकी है। राजस्थानी मसाला बाटी को पंचरतन दाल या अरहर की दाल या हरे धनिए की चटनी और अचार और चूरमा के  साथ परोसे और खाएं।

यह बनाने में हो सकता है काफी समय ले लें एक बार बनने के बाद आपकी मेहनत फुल वसूल होती है।