(प्रतीकात्मक चित्र)
Print Friendly, PDF & Email

हिंद वॉच संवाददाता
सिमडेगा, झारखंड
कोलेबिरा में इन दिनों हादसों का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। इसके पीछे तेज रफ्तार से वाहनों का परिचालन के साथ साथ नशे की हालत में वाहन चलाना प्रमुख कारण रहा है। प्रशासन द्वारा सड़क सुरक्षा को लेकर समय समय पर वाहन चेकिंग अभियान चलाया जा रहा है और लोगों को हादसे को लेकर जागरूक किया जा रहा है लेकिन इसके बावजूद कोई बदलाव नहीं हो रहा है।

विदित हो कि 17 सितंबर को कोलेबिरा सिमडेगा पथ पर लोहा पुल के पास तुरबेन डांग नामक गोबरधसा निवासी एक्स फौजी द्वारा बाइक पर से गढे में गिरकर जख्मी हो गया जिसे स्थानीय ग्रामीणों के सहयोग से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कोलेबिरा लाकर इलाज कराया गया।

18 सितंबर को नावा टोली बगीचा के पास खुशी कुमारी उम्र(12वर्ष) को मुकेश कुमार पिता लक्ष्मण लोहरा के द्वारा अपने मोटरसाइकिल नंबर जे एच 01बी एच से नशे की हालत में ठोकर मार कर गंभीर रूप से घायल कर दिया गया। इस घटना के बाद जिप सदस्य फूलकुमारी समद ने घायल खुशी कुमारी को अस्पताल लेकर आई और ईलाज करवाई।

वहीं ,दूसरी ओर अघरमा के समीप अज्ञात वाहन की चपेट में आने से एक अज्ञात व्यक्ति गंभीर रूप से घायल हो गया जिसका नाम एवं पता की पुष्टि समाचार लिखे जाने तक नहीं हो पाई थी। अज्ञात व्यक्ति की दुर्घटना की सूचना ग्रामीणों के द्वारा 108 नंबर पर दी गई जिसके बाद उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया जहां उसका इलाज चल रहा था। यह व्यक्ति भी नशे की हालत में था। इसके चेहरे एवं शरीर के कई हिस्सों में गंभीर चोट लगी है इसके दुर्घटना में कई दांत भी टूट गए हैं।

सड़क दुर्घटनाओं पीछे लोगों का कहना है कि जब तक वाहन चालकों के सभी वांछित एवं आवश्यक कागजातों के साथ साथ ड्राइविंग लाइसेंस की सघन जांच कर गलत पाए जाने पर जुर्माने की वसूली नहीं की जाती है तब तक इसमें कोई भी कमी आने की गुंजाइश कम ही है। काम उम्र के युवकों के द्वारा तेज रफ्तार से वाहन चलाने के अलावे यातायात नियमों की अनदेखी करने के कारण भी दुर्घटनाओं में वृद्धी हो रही है।
पोस्टल पिन कोड 835201 835211 835212 835223 835226 835228