Print Friendly, PDF & Email

असमाजिक तत्वों ने तोड़ी बाबा साहब अम्बेडकर की मूर्ति। मूर्ति टूटने से अम्बेडकर अनुनायियों में फैला आक्रोश। मूर्ति टूटने की सूचना पर मोके पर पहुची पुलिस। थाना हाथरस जंक्शन क्षेत्र के गांव लाढ़पुर के बाहर तिराहे की घटना।

सूबे के इलाहाबाद तथा सिद्धार्थनगर में शुक्रवार की रात में आंबेडकर प्रतिमाएं तोड़े जाने की वारदातों के बाद हाथरस जिले में भी अराजक तत्वों ने आंबेडकर प्रतिमा को तोड़ा है। इस वारदात से हाथरस में तनाव है।

आंबेडकर अनुयायियों ने नारेबाजी के बीच इस वारदात पर विरोध जताया है। पुलिस प्रशासनिक अधिकारी लोगों को समझाकर प्रतिमा बदलवाने में लगे है और वे ऐसा करने वालों के खिलाफ सख्त कार्यवाही करने की भी कह रहे है।

इलाहाबाद तथा सिद्धार्थनगर की वारदातों के सिलसिले में सूबे के सीएम योगी आदित्यनाथ ने सख्त कार्यवाही के निर्देश दिए है ऐसे में हाथरस जिले के एएसपी ने मामले में सख्त कार्यवाही की ऐसी नजीर पेश करने का भरोसा दिलाया है ताकि फिर से कोई ऐसी हिमाकत न करे।

यूपी के हाथरस जिले के थाना हाथरस जंक्शन इलाके के गांव लाढ़पुर के बाहर तिराहे पर पार्क में क्षतिग्रस्त की गयी आंबेडकर प्रतिमा और वहां नारेबाजी करते आंबेडकर अनुयायियों को देखिये। ये लोग काफी गुस्से में है। दरअसल शनिवार की रात में अराजक तत्वों ने इस प्रतिमा को तोडा है। प्रतिमा को तोड़े जाने का पता सुबह शौच को जाने वाले ग्रामीणों को लगा तो उन्होंने पुलिस को इस बात की सूचना दी।

पर पुलिस प्रशासनिक अधिकारी फाॅर्स के साथ मोके पर आये। उन्होंने लोगों को समझाकर शांत किया  प्रतिमा को बदलवाने की व्यवस्था की। अम्बेडर अनुयायियों का गुस्सा इस बात को लेकर भी है कि यह प्रतिमा चौथी बार तोड़ी गयी है इसके बाद प्रतिमा तो बदली गयी है लेकिन तोड़ने वालों के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं हुई है। उन्हें इसके पीछे आरक्षण विरोधियों का हाथ लगता है।

अलवत्ता मामले में जिले के एएसपी ने बताया है जिहोने भी यह प्रतिमा तोड़ी है उनके खिलाफ सख्त कार्यवाही होगी और ऐसी नजीर पेश की जाएगी कि फिर से कोई ऐसी हिमाकत न करे।