Punjab Dy chief Minister Sukhbir singh Badal talking to media after meeting with BJP president Amit Shah and Arun Jaitley at Shah residence in new Delhi on Tuesday. Express Photo by Prem Nath Pandey. 09.02.2016.
Print Friendly, PDF & Email

Punjab Dy chief Minister Sukhbir singh Badal talking to media after meeting with BJP president Amit Shah and Arun Jaitley at Shah residence in new Delhi on Tuesday. Express Photo by Prem Nath Pandey. 09.02.2016.

पंजाब के उप मुख्यमंत्री सुखबीर बादल के काफिले पर पथराव हुआ। पथराव में चार लोग घायल हो गए|इसमें पुलिस की गाडि़यों को नुकसान पहुंचा है। पथराव उस समय किया गया जब वे फाजिल्का जिले के जलालाबाद में रैली को संबोधित कर लौट रहे थे। पुलिस ने बताया कि सुखबीर बादल सुरक्षित हैं और उनके वाहन को भी नुकसान नहीं हुआ है। पंजाब के उप मुख्यमंत्री को जेड प्लस सुरक्षा मिली हुई है। पुलिस ने अज्ञात युवकों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। वहीं आप सांसद भगवंत मान पर पथराव के लिए लोगों को उकसाने का आरोप है। मान का एक वीडियो सामने आया है जिसमें वे लोगों को पत्थर फेंकने की बात कह रहे हैं। हालांकिे आप और मान दोनों ने इससे इनकार किया है। लेकिन आप नेता के एक रैली में इस तरह का बयान देने के कुछ समय बाद ही अकाली दल के एक नेता पर कुछ लोगों ने हमला कर दिया था।

जलालाबाद सुखबीर बादल का विधानसभा क्षेत्र हैं। 8 जनवरी को चुनाव प्रचार के तहत कई गांवों में रैलियों को संबोधित करने के बाद कंधवाला हजार खान से निकल रहे थे तो उन पर पथराव किया गया।  फाजिल्का के एसएसपी केतन बलिराम पाटिल ने बताया “जैसे ही डिप्टी सीएम को काफिला रवाना हुआ 15-20 लोगों के एक दल ने पत्थर फेंकने शुरू कर दिए। एसपी की गाड़ी को नुकसान पहुंचा है। मामला दर्ज कर लिया है।” गांव के सरपंच जसवंत सिंह ने आरोप लगाया कि “पथराव करने वाले आप के समर्थक थे।” उन्होंने बताया कि “भगवंत मान ने कहा था कि अकालियों को गांव में घुसने नहीं देना है।” गौरतलब है कि भगवंत मान सुखबीर बादल के सामने खड़े हुए हैं।

इससे पहले रैली के दौरान सुखबीर ने कहा कि “जलालाबाद उनके लिए स्पेशल जगह है। इसीलिए वे तीसरी बार यहां से लड़ रहे हैं।” भगवंत मान पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि “जो व्यक्ति शराब के असर में रहता हो उससे क्या उम्मीद की जा सकती है। वह जनता का क्या भला करेगा। आप ने दिल्ली में कोई काम नहीं किया। उनसे पंजाब में भी कोई उम्मीद नहीं की जा सकती।”